राष्ट्रमंडल संगठन शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे पीएम
   दिनांक 19-अप्रैल-2018
प्रधानमंत्री के इस लंदन दौरे का खास आकर्षण भारतीय समुदाय के लोगों के साथ उनके संवाद का कार्यक्रम 'भारत की बात, सबके साथ' होगा
 
 
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लंदन पहुंच चुके हैं। वह यहां भारत और ब्रिटेन के साथ आपसी संबंधों को नए शिखर पर ले जाने के वार्ता करेंगे और राष्ट्रमंडल देशों के प्रमुखों के सम्मेलन में भी हिस्सा लेंगे।
 
ब्रिटिश प्रधानमंत्री थेरेसा के आमंत्रण पर हो रही पीएम की इस यात्रा में दोनों देश तमाम मसलों पर बात करेंगे। दोनों देशों के मजबूत संबंधों को याद करते हुए पीएम ने यात्रा पर रवानगी से पहले उम्मीद जताई थी कि उनकी इस यात्रा से दोनों देशों के परस्पर सहयोग को नई गति मिलेगी। मोदी ब्रिटिश प्रधानमंत्री के साथ मुलाकात के अलावा ब्रिटेन की महारानी से भी भेंट करेंगे। लंदन में पीएम की यात्रा के दौरान इस बार भारतीय समुदाय के लोगों के साथ संवाद का एक अनूठा कार्यक्रम आयोजित किया गया है।
 
बुधवार को आयोजित होने वाले इस कार्यक्रम का शीर्षक है 'भारत की बात, सबके साथ' है। लंदन में द्विपक्षीय मुलाकातों के अलावा पीएम मोदी 19 और 20 अप्रैल को 53 देशों के राष्ट्रमंडल संगठन शिखर सम्मेलन में हिस्सा लेंगे । इस बैठक में 50 देशों के मुखिया हिस्सा ले रहे हैं। शिखर सम्मेलन के दौरान सदस्य राष्ट्र उसके समक्ष अवसरों और चुनौतियों, लोकतंत्र और शांति तथा समृद्धि को आगे बढ़ाने के बारे में साझा रूख तय करेंगे। बैठक के एजेंडे में जलवायु परिवर्तन, छोटे द्वीपीय देशों पर मंडराते खतरे प्रमुख है। इस दौरान विभिन्न देशों से कई अहम द्विपक्षीय समझौते हो सकते हैं ।
 
2009 के बाद यह पहली बार होगा जब कोई भारतीय प्रधानमंत्री राष्ट्रमंडल शिखर सम्मेलन का हिस्सा बनेंगे। माल्टा में हुई पिछली बैठक में पीएम नरेंद्र मोदी शामिल नहीं हो सके थे। कुल मिलाकर पीएम मोदी की ये यात्रा भारत-ब्रिटेन संबंध को मज़बूत बनाने में अहम योगदान देगी और दोनोंदेशों में आपसी सहयोग बढ़ेगा।"