हिजाब पहनकर शतरंज खेलने ईरान नहीं जाएंगी सौम्या,कहा यह मेरे धर्म में नहीं
   दिनांक 13-जून-2018
 
महिला ग्रैंडमास्टर और पूर्व जूनियर गर्ल्स चैंपियन सौम्या स्वामीनाथन 26 जुलाई से 4 अगस्त तक ईरान के हमदान में आयोजित होने वाली एशियन टीम शतरंज चैंपियनशिप में हिस्सा नहीं लेंगी। सौम्या ने इस्लामिक देश ईरान में अनिवार्य रूप से हिजाब या स्कार्फ पहनने के नियम को अपने निजी अधिकारों का उल्लंघन बताते हुए यह फैसला लिया है। उन्होंने इस बारे में अपने फेसबुक पेज पर लिखा है कि यह मेरी आजादी और धर्म के अधिकार का हनन है। मुझे लगता है कि मुझे ईरान नहीं जाना चाहिए।https://www.facebook.com/permalink.php?story_fbid=2177807325593182&id=218386564868611
भारत की नंबर 5 महिला शतरंज खिलाड़ी 29 वर्षीय सौम्या ने फेसबुक पर लिखा, 'मैं जबरदस्ती स्कार्फ या बुरका नहीं पहनना चाहती। मुझे लगता है कि ईरानी कानून के तहत जबरन स्कार्फ पहनाना मेरे बुनियादी मानवाधिकार का सीधा उल्लंघन है। यह मेरी अभिव्यक्ति की आजादी और विचारों की आजादी सहित मेरे विवेक और धर्म का उल्लंघन है। ऐसी परिस्थितियों में मेरे अधिकारों की रक्षा के लिए मेरे पास एक ही रास्ता है कि मैं ईरान न जाऊं।'
 
ऐसा पहली बार नहीं है जब कोई महिला खिलाड़ी ईरान में होने वाले टूर्नामेंट से हिजाब पहनने की मजबूरी की वजह से बाहर निकली हो. इससे पहले भी 2016 में भारत की पिस्टल शूटर हिना सिंधू ने ईरान में होने वाले एशियन एयरगन शूटिंग चैम्पियनशिप से अपने आप को अलग कर लिया था.