हमने अपना एजेंडा पूरा किया: महबूबा
   दिनांक 19-जून-2018
 
जम्मू—कश्मीर में गठबंधन टूट चुका है। महबूबा मुफ्ती ने अपना इस्तीफा राज्यपाल को सौंप दिया है। भाजपा का कहना है कि पीडीपी सरकार अपने दायित्वों का निर्वहन सही से नहीं कर पाई है। वहीं महबूबा मुफ्ती ने इस्तीफा देने के बाद कहा कि कश्मीर में शांति के लिए बातचीत की आवश्यकता है। यहां कोई भी सख्ती की पॉलिसी नहीं चल सकती है। संवाद पाकिस्तान और घाटी के लोगों दोनों से होना चाहिए। कश्मीर में हर समस्या के समाधान के लिए बातचीत की आवश्यकता है। उन्होंने स्पष्ट कहा कि, 'मुफ्ती साहब ने जिस मकसद के साथ गठबंधन किया था, वह पूरा हुआ। हमारी सरकार ने सीजफायर रुकवाया, पीएम का पाकिस्तान जाना, धारा 370 के साथ छेड़छाड़ नहीं होने देना, पत्थरबाजी के आरोप वाले 11 हजार युवाओं के केस वापस कराए गए। हमने सत्ता के लिए सरकार नहीं बनाई थी। हमने अपना अजेंडा, अपना मकसद पूरा करने के लिए सरकार बनाई थी।