केरल में चर्च में महिला से पादरियों ने किया यौन शोषण
   दिनांक 27-जून-2018
केरल के कोट्टायम में एक चर्च में जाने वाली एक महिला ने पांच पादरियों पर यौन उत्पीड़न करने का आरोप लगाया है। महिला ने अपने पति को इस संबंध में बताया उसके पति ने पादरियों के खिलाफ शिकायत की है। चर्च ने पांचों पादरियों को निलंबित कर दिया है

केरल के कोट्टायम शहर में मलंकरा ऑर्थोडॉक्‍स सीरियन चर्च के पांच पादरियों ने एक महिला के साथ यौन उत्पीड़न किया। पादरी सालों से उसका यौन शोषण कर रहे थे। ईसाई मत के अनुसार महिला ने कई साल पहले पादरियों के सामने कुछ कन्फेशन (कोई गलती जिसे पादरी के सामने ईसाई मत के लोग स्वीकार करते हैं) किया था। चर्च के नियमानुसार पादरियों को उसे खुद तक सीमित रखना था लेकिन आरोपी पादरी ने महिला द्वारा किए गए कन्फेशन के जरिए ही उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया और उसका यौन शोषण किया।
महिला के पति ने इस बारे में सोशल मीडिया पर एक ऑडियो ​क्लिप भी सोशल मीडिया पर डाला है जो काफी वायरल हो रहा है। इसके अलावा उसने चर्च को पत्र लिखकर इस संबंध में शिकायत भी की है। महिला और उसके पति के आरोपों के बाद पांच पादरियों को निलंबित कर दिया गया है। पीड़िता के पति ने पादरियों पर आरोप लगाया कि वह कई साल से उसकी पत्नी का यौन शोषण कर रहे थे। उसने अपने पत्र में लिखा कि एक पादरी ने उसकी पत्नी से 380 बार दुष्कर्म किया। शिकायत मिलने के बाद चर्च की वर्किंग कमेटी के सदस्य और चर्च के प्रधान पादरी एमओ जॉन ने सोमवार को पांचों आरोपी पादरियों को छुट्टी पर भेज दिया।
चर्च के जनसंपर्क अधिकारी पीसी इलियास ने कहा है कि इस मामले में एक आंतरिक जांच शुरू हो गई है और रिपोर्ट आने के बाद कार्रवाई की जाएगी। सोशल मीडिया में कई तरह की शिकायतें आ रही हैं, इसलिए चर्च जांच समिति की रिपोर्ट का इंतजार करेगा। पीड़ित महिला के पति ने दावा किया है कि उनके पास दोषियों के खिलाफ पर्याप्‍त सबूत हैं।