खेलों में बढ़ रहा भारत का रुतबा, भाला फेंक में मिला स्वर्ण
   दिनांक 30-जुलाई-2018

भारत को आईएएएफ की ट्रैक स्पर्धा में गोल्ड मेडल दिलाने वाली असम की स्टार एथलीट हिमा दास के बाद भारत के एक और खिलाड़ी ने विश्व में भारतीय प्रतिभा का लोहा मनवाया है।
भारत के भाला फेंक एथलीट नीरज चोपड़ा ने फिनलैंड में चल रहे सावो गेम्स में रविवार को शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया।
उन्होंने चीन के ताइपे चाओ त्सुच चेंग को हराकर एशियन गेम्स की अपनी तैयारियों को पुख्ता किया। कॉमनवेल्थ गेम्स के स्वर्ण पदक विजेता नीरज ने 85.69 मीटर तक भाला फेंका।
चेंग ने 82.52 मीटर तक भाला फेंककर दूसरा स्थान प्राप्त किया। एशिया महाद्वीप में सिर्फ 23 वर्षीय चेंग ही अकेले ऐसे एथलीट हैं जो 90 मीटर से दूर भाला फेंक चुके हैं। उन्होंने ताइपे में पिछले वर्ष हुए वल्र्ड यूनिवर्सिटी गेम्स में 91.36 मीटर तक भाला फेंका था। इस सत्र में उनका सर्वश्रेष्ठ 84.60 मीटर है, जो उन्होंने इस माह की शुरुआत में स्वीडन में बनाया था। नीरज का निजी सर्वश्रेष्ठ 87.43 मीटर है। उन्होंने अपना ही रिकॉर्ड तोड़ते हुए 85.69 मीटर तक भाला फेंका 
नीरज का सर्वश्रेष्ठ स्कोर और राष्ट्रीय स्कोर 87.43 है, जो उन्होंने इसी साल दोहार में खेली गई डायमंड लीग प्रतियोगिता के पहले राउंड हासिल किया था। इस साल नीरज एशिया में सबसे आगे चल रहे हैं। वह चेंग और कतर के अहमद बादेर से भी आगे है। बादेर का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 83.71 रहा है।