कठुआ कांड का मुख्य गवाह तालिब हुसैन दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार
   दिनांक 02-अगस्त-2018
कठुआ मामले की पैरवी कर रही अधिवक्ता दीपिका रजावत के साथ आरोपी तालिब हुसैन 
पुलिस ने कठुआ कांड में बच्ची की हत्या के मुख्य गवाह तालिब हुसैन को एक महिला से दुष्कर्म का प्रयास करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। तालिब हुसैन वही शख्स है जिसने कठुआ में बच्ची से दुष्कर्म और उसकी हत्या किए जाने के बाद मामले को मजहबी रंग देकर मीडिया में खूब सुर्खियां बटोरी थीं। हाथों में बैनर लेकर दुष्कर्मी को फांसी दिए जाने की मांग को लेकर हो रहे प्रदर्शनों की अगुवाई की थी। जिस महिला ने तालिब पर आरोप लगाया है वह महिला उसकी रिश्तेदार है। तालिब पर हत्या के प्रयास, दहेज उत्पीड़न और धोखाधड़ी का भी मामला दर्ज है।
जानकारी के अनुसार तालिब हुसैन के खिलाफ उसकी एक महिला रिश्तेदार ने तांबा पुलिस स्टेशन में लिखित शिकायत दी थी कि जब वह जब वह ऊधमपुर के मजालता इलाके में मवेशी चरा रही थी तो तालिब हुसैन हाथ में तेजधार हथियार लेकर पहुंच गया। उसने उसके साथ दुष्कर्म करने का प्रयास किया। वह किसी तरह उसके चंगुल से निकल गई, लेकिन तालिब ने महिला को धमकी दी कि अगर उसने यह बात किसी से कही तो वह उसे जान से मार देगा। महिला ने डर के मारे किसी को यह बात नहीं बताई। बाद में उसने अपनी पति को इस बारे में बताया। शिकायत दर्ज होने के बाद पुलिस मंगलवार देर रात आरोपी को दक्षिण कश्मीर के त्राल इलाके से गिरफ्तार कर सांबा में लाई। पुलिस ने उसके खिलाफ आरपीसी की धारा 376 और शस्त्र अधिनियम 4/25 के तहत मामला दर्ज किया है।
दहेज उत्पीड़न, धोखाधड़ी और हत्या का भी है आरोप
तालिब पर उसकी पत्नी ने भी दहेज उत्पीड़न का मामला दर्ज कराया हुआ है। इस मामले में वह जम्मू—कश्मीर हाईकोर्ट से जमानत पर है। इसके अलावा उसके खिलाफ जम्मू में हत्या के प्रयास का मामला भी दर्ज है, जिसका पुलिस ने कोर्ट में चालान पेश कर दिया है। कठुआ मामले की सुनवाई के दौरान तालिब ने सर्वोच्च न्यायालय में हलफनामा दायर स्वयं को वकील बताया था कि लेकिन बाद में सूचना के अधिकार के तहत खुलासा हुआ कि उसने वकालत की कोई डिग्री नहीं ली है।