वरिष्ठ प्रचारक रोशनलाल जी का देवलोकगमन
   दिनांक 28-अगस्त-2018

संस्कार एवं राष्ट्रीयता से परिपूर्ण शिक्षा के क्षेत्र में कार्यरत विद्याभारती (मध्यक्षेत्र) के मार्गदर्शक एवं राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक श्री रोशनलाल सक्सेना का गत 21 अगस्त को भोपाल में निधन हो गया। उल्लेखनीय है कि स्व. रोशन लाल का जन्म 5 अक्तूबर, 1931 को मध्य प्रदेश के सीधी जिले में हुआ था।
वर्ष 1954 में गणित एवं सांख्यिकी में एमएससी की उपाधि प्राप्त करके उन्होंने अध्यापन कार्य आरंभ किया। राष्ट्रीय स्वयंसवेक संघ की प्रेरणा से रोशनलाल जी ने 12 फरवरी, 1959 सरस्वती शिशु मंदिर का कार्य प्रारम्भ किया।
कुछ वर्ष बाद शासकीय महाविद्यालय के प्राध्यापक के पद से त्यागपत्र देकर उन्होंने रीवा विभाग प्रचारक के दायित्व के साथ ही सरस्वती शिशु मंदिर का दायित्व संभाला। वर्ष 1970 में उन्हें सरस्वती शिशु मंदिर के क्षेत्रीय संगठन मंत्री का दायित्व सौंपा गया। आपातकाल के दौर में उन्हें मीसा के अंतर्गत 19 माह जेल में रहना पड़ा।
वर्ष 2002-03 में वनवासी शिक्षा का दायित्व मिल गया, तब उन्होंने सुदूर पूर्व से लेकर गिरि-कंदराओं से परिपूर्ण दुर्गम क्षेत्रों में रहने वाले वनवासी बालक-बालिकाओं को शिक्षा से जोड़ने का कल्याणकारी कार्य किया। उनका संपूर्ण जीवन शिक्षा, समाज एवं राष्ट्रीय के लिए समर्पित रहा। उनके निधन पर रीवा के स्वयंसेवकों ने उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की और उनके कार्यों को याद किया।