प्रमुख श्रेणीयाँ

स्वच्छता सर्वेक्षण: परिस्थितियों को मात देकर फिर देश का सबसे साफ-सुथरा शहर बना इंदौर, भोपाल दूसरे नंबर पर

आगे पढ़ें

परिस्थितियों को मात देकर दुनिया में परचम लहराने की आपने कई मिसालें देखी और सुनी होंगी। लेकिन क्या आपको पता है कि देश में स्वच्छता अभियान के तहत कराए गए सर्वे में सफाई के मामले में इंदौर को दूसरी बार पहला स्थान मिला है।..

क्या बंगलादेशी मुसलमान अभी भी भारत में पैर पसार रहे है?

आगे पढ़ें

भारत के पडोसी देश म्यामांर में रोहिंग्या मुसलमानों को लेकर मानवीय त्रासदी की रोज नई नई तस्वीरें सामने आ रही हैं। इस वजह से समग्र विश्व में यह धारणा बन गई है कि दुनिया में सबसे ज्यादा सताई जा रही कौम रोहिंग्या मुसलमानों की ही है। हालांकि इसके जिम्मेदार भी वे खुद हैं।..

पश्चिम बंगाल के पंचायत चुनावों मे हिंसा या हिंसा में चुनाव?

आगे पढ़ें

पश्चिम बंगाल के पंचायत चुनावों में हिंसा का जो तांडव हुआ वह देश की लोकतंत्र को शर्मसार करने वाला हैं और इसकी जिम्मेदार केवल सत्ता में बैठी तृणमूल कांग्रेस है। इस वजह से पूरे देश में पश्चिम बंगाल की सरकार की आलोचना भी ज़ोर-शोर से हो रही है।..

कांग्रेस की खोखली जिद

आगे पढ़ें

यह लेख संविधान की मीन-मेख करने से संबंधित नहीं है। लेकिन, संदर्भ के तौर पर, इतना कहना आवश्यक है कि संविधान निर्माताओं ने संभवत: उन परिस्थितियों की कल्पना नहीं की होगी, जो परिस्थितियां पनपती गईं और जिनका संविधान के पास कोई उत्तर नहीं है। ऐसी परिस्थितियों की लंबी सूची हो सकती है। वर्तमान में अपेक्षाकृत ज्यादा प्रासंगिक कुछ परिस्थितियां इस प्रकार हं लेख लिखे जाने से चंद घंटे पहले एक घोषित आतंकवादी को मृत्यु दंड मिलने को लेकर भारी नाटकीय स्थितियां बनी रहीं।..