पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं
पीएम ने उत्तराखंड को दी 18 हजार करोड़ के योजनाओं की सौगात, कहा- अपनी तिजोरी भरने वालों की सरकार ने प्रदेश में कुछ नहीं किया

श्री नरेंद्र मोदी, प्रधानमंत्री

पीएम ने उत्तराखंड को दी 18 हजार करोड़ के योजनाओं की सौगात, कहा- अपनी तिजोरी भरने वालों की सरकार ने प्रदेश में कुछ नहीं किया

Dec 04, 2021, 05:45 PM IST

हमारे लिए उत्तराखंड तप तपस्या की भूमि है, जिसके लिये हम दिन-रात मेहनत कर रहे हैं: पीएम   देहरादून पहुंचे प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश को 18 हजार करोड़ की योजनाओं की सौगात दी। पीएम ने 15626 करोड़ की योजनाओं का शिलान्यास और 2573 करोड़ की योजनाओं का लोकार्पण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि जो बात पांच साल पहले कही थी, आज फिर वो बात पूरी करते हुए फिर से कहने का साहस कर रहा हूं, 'उत्तराखंड की जवानी, उत्तराखंड का पानी उत्तराखंड के ही काम आएंगे।' पीएम मोदी ने परेड मैदान में एक लाख से ज्यादा भीड़ को संबोधित करते हुए कहा कि देश में कुछ राजनीतिक स्वार्थी नेताओं ने वोट बैंक की राजनीति के लिए अपनी जाति अपने विशेष धर्म के लोगों के लिए राजनीति कर जनता को मजबूत नहीं मजबूर बनाये

Advertisement

सर्वाधिक मन्दिरों वाला विश्व का सुन्दरतम द्वीप बाली

सर्वाधिक मन्दिरों वाला विश्व का सुन्दरतम द्वीप बाली

Nov 27, 2021, 01:00 PM IST

बाली हिन्दू संस्कृति का एक विश्व दुर्लभ रामायण कालीन केन्द्र है। यहां 1000 उत्तम मंदिरों समेत 20,000 से अधिक छोटे-बड़े मंदिर हैं। मार्कण्डेय ऋषि की तपोस्थली, वासुकि एवं तक्षक नाग की प्रतिमा और सुमेरु पर्वत का विशेष महत्व है। इण्डोनेशिया की प्राचीन हिन्दू सभ्यता,संस्कृति व इतिहास यहां 8वीं से 14वीं सदी के संस्कृत व बालीनीज भाषा और देवनागरी लिपि के शिलालेखों, पाण्डुलिपियों व ताम्रपत्रों में प्रचुरता से है। हिन्द महासागर के सुदूर पूर्व में स्थित विश्व का सर्वाधिक मन्दिरयुक्त इण्डोनेशियाई द्वीप बाली अपने प्राकृतिक सौन्दर्य, कला, वास्तु शिल्प, संस्कृति एवं सागर-तटीय मनोरम मन्दिरों के लिए विश्व प्रसिद्ध है। इस 43 लाख जनसंख्या और 5780 वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल वाले द्वीप पर 1000 से अधिक उत्तम मन् ......

मार्गशीर्ष महीने का धार्मिक महत्व

भगवान विष्णु

मार्गशीर्ष महीने का धार्मिक महत्व

Nov 20, 2021, 09:59 AM IST

आज यानी 20 नवंबर से भगवान विष्णु का सबसे प्रिय महीना मार्गशीर्ष (अगहन) शुरू हो गया। मार्गशीर्ष का महीना हिन्दू धार्मिक पंचांग का नौवां महीना होता है। इसे अग्रहायण या अगहन का महीना भी कहा जाता है। धर्मशास्त्रों के अनुसार मार्गशीर्ष का महीना अत्यंत पवित्र माह माना जाता है। इसी महीने से सतयुग का आरंभ माना जाता है। श्रीमद्भगवतगीता में योगेश्वर भगवान श्रीकृष्ण कहते हैं- "मासानां मार्गशीर्षोऽयम्" अर्थात् सभी बारह महीनों में मार्गशीर्ष मैं स्वयं हूं    अरुण द्विवेदी  साल 2021 में मार्गशीर्ष (अगहन) का महीना 20 नवंबर से शुरू होकर 19 दिसंबर, 2021 तक रहेगा। अनेक ग्रंथों में उल्लेख मिलता है कि कश्यप ऋषि ने मार्गशीर्ष के महीने में ही कश्मीर की रचना की थी। यह महीना भगवान श्र ......

#एक्टिविस्ट _गैंग_ बेनकाब: 'एक्टिविस्टों' की फसल में क्यों उग आते हैं देशद्रोही
#एक्टिविस्ट _गैंग_ बेनकाब: 'एक्टिविस्टों' की फसल में क्यों उग आते हैं देशद्रोही

Feb 15, 2021, 01:19 PM IST

भारत में एक फसल उगती है 'एक्टिविस्ट' की. लेकिन 'एक्टिविस्ट' के हर लबादे के अंदर से देश विरोधी, हिंदू विरोधी और अराजकतावादी ही क्यों निकलता है. कौन लगाता है इस फसल को ये पर्यावरण 'एक्टिविस्ट'होते हैं, तो देश की हर विकास योजना में रोड़ा लगाते हैं. ये साहित्यिक 'एक्टिविस्ट' होते हैं, तो देश के प्रधानमंत्री की हत्या की साजिश रचते हैं, या फिर माओवाद की वकालत करते हैं. ये कानूनी 'एक्टिविस्ट' होते हैं, तो देश की सर्वोच्च अदालत की मर्यादा भंग करते हैं. ये मानवाधिकार 'एक्टिविस्ट' होते हैं, तो हर जगह आ.....

जमीन जिहाद पर गरज रहा हिमंता सरकार का बुलडोजर, असम में 3.87 लाख हेक्टेयर भूमि अतिक्रमणकारियों के कब्जे में

None

जमीन जिहाद पर गरज रहा हिमंता सरकार का बुलडोजर, असम में 3.87 लाख हेक्टेयर भूमि अतिक्रमणकारियों के कब्जे में

Nov 15, 2021, 12:10 PM IST

राज्य सरकार के 2019 के आकलन के अनुसार 3.87 लाख हेक्टेयर भूमि अतिक्रमणकारियों के कब्जे में है। इस पर व्यंग्य करते हुए मुख्यमंत्री हिमन्त विश्व सरमा कहा करते हैं कि पूरे गोवा से ज्यादा भूमि तो हमारे यहाँ अतिक्रमणकारियों के कब्जे में है।   स्वाती शाकंभरी  केन्द्रीय गृह मंत्री अमित शाह असम में गत विधानसभा चुनावों के दौरान प्रचार के लिए पहुंचे तो उन्होंने ‘लैंड जिहाद’ का मुद्दा जोर-शोर से उठाया और राज्य की सत्ता दोबारा मिलने पर इससे मुक्ति का वादा किया था। उन्होंने कभी .....

Advertisement

Advertisement

एमएसपी पर बातचीत के लिए किसान मोर्चा ने तय किए पांच नाम, आंदोलन पर दो फाड़

None

एमएसपी पर बातचीत के लिए किसान मोर्चा ने तय किए पांच नाम, आंदोलन पर दो फाड़

Dec 04, 2021, 09:43 PM IST

सरकार एमएसपी पर कमेटी गठित की है। इसके लिए सरकार ने किसान संगठनों से पांच नाम मांगे थे। संयुक्‍त किसान मोर्चा ने पांच नाम तय कर लिए हैं, लेकिन आंदोलन खत्‍म करने को लेकर किसान संगठनों में मतभेद है। इस पर विचार के लिए किसान संगठन एक बार फिर से बैठक करेंगे।    केंद्र सरकार ने तीनों कृषि कानून वापस लेने के बाद अब एमएसपी विचार के लिए कमेटी गठित की है। इस कमेटी में शामिल करने के लिए सरकार ने किसान संगठनों से पांच प्रतिनिधियों के नाम मांगे थे। आज संयुक्‍त किसान मोर्चा ने बैठक कर पांच नाम तय किए जिनमें गुरनाम सिंह चढ़ूनी, युद्धवीर सिंह, शिवकुमार कक्का, अशोक धावले व बलबीर सिंह राजेवाल शामिल हैं। किसानों ने कहा कि अब 7 दिसंबर को फिर से बैठक होगी। इसमें आगे की स्थिति पर वि .....

चीनी सैनिकों को जवाब देने के लिए सेना की तैयारी में एक और कदम, अब अफसर पढ़ेंगे मंदारिन भाषा

प्रतीकात्मक चित्र

चीनी सैनिकों को जवाब देने के लिए सेना की तैयारी में एक और कदम, अब अफसर पढ़ेंगे मंदारिन भाषा

Dec 04, 2021, 01:30 PM IST

आर्मी कैडेट कॉलेज में एक सेमेस्टर चीनी भाषा अनिवार्य  देहरादून आर्मी कैडेट कॉलेज में सेना के अफसर अब मंदारिन (चीनी) भाषा का भी अध्धयन करेंगे। सेना ने एक सेमेस्टर इसके लिए अनिवार्य कर दिया है। सेना मीडिया से मिली जानकारी के मुताबिक चीन सीमा पर भाषा को लेकर अक्सर दिक्कतें आती हैं, पाकिस्तान  बॉर्डर पर भाषा को लेकर कोई दिक्कत नहीं है, किंतु चीन बॉर्डर पर चीनी सैनिक जब आपस मे बात करते हैं या सेना को कोई संदेश देना या पकड़ना होता है तो भारत की सेना के अधिकारियों को भाषा संकट का सामना करना होता है। इस समस्या को देखते हुए सेना ने आर्मी कैडेट कॉलेज में एक सेमिस्टर चीन की मंदारिन भाषा सीखने के लिए अनिवार्य कर दिया गया है। तीन महीने के इस सत्र में चीनी भाषा विशेषज्ञ सेना के भावी अधिका .....

कोरोना अपडेट:  देशभर में 24 घंटे में 8 हजार से ज्यादा मिले नए मरीज, वैक्सीनेशन का आंकड़ा 126 करोड़ के पार

प्रतीकात्मक चित्र

कोरोना अपडेट: देशभर में 24 घंटे में 8 हजार से ज्यादा मिले नए मरीज, वैक्सीनेशन का आंकड़ा 126 करोड़ के पार

Dec 04, 2021, 11:40 AM IST

अभी 99 हजार, 974 एक्टिव केस हैं, पिछले 61 दिनों से संक्रमण दर दो प्रतिशत से नीचे है   देश में कोरोना के नए मामले थोड़े घटे हैं। पिछले 24 घंटे में देशभर में कुल 8 हजार, 603 नए मरीज सामने आए हैं। इस दौरान पूरे देश में कोरोना से 415 लोगों की मौत हुई है। वहीं, कोरोना से ठीक होने वालों की संख्या 08 हजार, 190 दर्ज की गई। पूरे देश में केरल में अब भी सबसे अधिक मरीज सामने आ रहे हैं। शनिवार सुबह तक केरल में पिछले 24 घंटे में चार हजार, 995 नए मरीज मिले हैं। इस दौरान इस राज्य में कोरोना से कुल 269 लोगों की मौत दर्ज की गई है। इनमें पिछले 24 घंटे में 44 मौत हुई हैं, जबकि कुल 269 की संख्या में पिछले कुछ महीनों में हुई 225 मौत भी शामिल हैं। इन मामलों की पुष्टि शुक्रवार को हुई है .....

फोटो गैलरी