पाञ्चजन्य - राष्ट्रीय हिंदी साप्ताहिक पत्रिका | Panchjanya - National Hindi weekly magazine
Google Play पर पाएं
Google Play पर पाएं

भारत

केंद्र की पहल पर फिर शुरू होगा सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर

WebdeskApr 23, 2021, 11:26 AM IST

केंद्र की पहल पर फिर शुरू होगा सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर

दिल्ली में लगातार बढ़ते हुए कोरोना के मामलों को देखते हुए दिल्ली की छतरपुर स्थित सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर में 500 बेड पर जल्द ही ईलाज शुरू हो जाएगा। गृह मंत्रालय ने इसके लिए आईटीबीपी को आदेश जारी कर दिए हैं पैरामेडिकल स्टाफ मिलते ही इसे चालू कर दिया जाएगा। जिसके लिए केंद्र सरकार से मंजूरी भी मिल गयी है। पिछले साल इस कोविड केयर सेंटर का संचालन आईटीबीपी द्वारा किया जा रहा था। इस बार इसे दिल्ली सरकार की ओर से दोबारा शुरू किया जा रहा है। छतरपुर स्थित सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर में 500 बेड पर कोरोना मरीजों का इलाज करने के लिए आईटीबीपी को जिम्मेदारी दी गई है। इस बारे में बृहस्पतिवार को गृह मंत्रालय की ओर से आदेश जारी कर दिए गए हैं। सभी 500 बेड पर आक्सीजन की भी व्यवस्था की जाएगी। आदेश में कहा गया है कि आईटीबीपी कोविड केयर सेंटर के लिए जल्द से जल्द मेडिकल व पैरामेडिकल स्टाफ उपलब्ध कराए। इस कोविड केयर सेंटर को मालवीय नगर स्थित पंडित मदनमोहन मालवीय अस्पताल से अटैच किया गया है जहां से जरूरी स्वास्थ्य उपकरण मुहैया कराए जाएंगे। मदनमोहन मालवीय अस्पताल के मुख्य चिकित्सा अधिकारी को सैनिटाइजेशन व केयर टेकिंग स्टाफ उपलब्ध कराने के भी निर्देश दे दिए गए हैं। यहां मरीजों के लिए गंभीर हालत में संबद्ध अस्पताल तक पहुंचाने के लिए 10 एंबुलेंस की भी व्यवस्था करने के निर्देश दिए गए हैं। इतने बड़े केयर सेंटर को संचालित करने के लिए जो श्रमशक्ति की आवश्यकता पड़ेगी वह केंद्र सरकार या सेना द्वारा ही उपलब्ध कराई जा सकती है। आईटीबीपी कर रही थी अस्पताल का संचालन पिछले साल 14 जुलाई को केंद्र सरकार द्वारा सरदार पटेल कोविड केयर सेंटर को 12000र् बिस्तरों के साथ शुरू किया गया था। मरीजों की संख्या कम होने के कारण इस साल 22 फरवरी को इसे अस्थायी रूप से बंद कर दिया गया था। शुरूआत में इसका संचालन आईटीबीपी द्वारा किया जा रहा था। हालांकि अस्पताल में कभी भी पूरी क्षमता से मरीज भर्ती नहीं हुए। इसी कारण केयर सेंटर को फरवरी में बंद कर दिया गया था। राधास्वामी सत्संग ब्यास उपलब्ध कराएगा भोजन केयर सेंटर चालू होने की सुगबुगाहट के साथ ही राधा स्वामी सत्संग ब्यास ने स्पष्ट कर दिया है कि पिछली बार की तरह ही इस बार भी केयर सेंटर में भर्ती होने वाले मरीजों को सत्संग ब्यास से ही भोजन उपलब्ध कराएगा। आयुष मंत्रालय द्वारा दवाई इत्यादि का वितरण भी किया जाएगा।

Comments

Also read:पराग अग्रवाल ट्विटर के नए सीईओ, दुनिया की बड़ी कंपनियों के शीर्ष अधिकारियों में एक और ..

UP Chunav: Lucknow के इस मुस्लिम भाई ने खोल दी Akhilesh-Mulayam की पोल ! | Panchjanya

योगी जी या अखिलेश... यूपी का मुसलमान किसके साथ? इसको लेकर Panchjanya की टीम ने लखनऊ में एक मुस्लिम रिक्शा चालक से बात की. बातों-बातों में इस मुस्लिम भाई ने अखिलेश और मुलायम की पोल खोलकर रख दी.सुनिए ये योगी जी को लेकर क्या सोचते हैं और यूपी में 2022 में किसपर भरोसा करेंगे.
#Panchjanya #UPChunav #CMYogi

Also read:एडमिरल आर. हरि कुमार बने नौसेना प्रमुख, संभाली देश की समुद्री कमान ..

संयुक्त  किसान मोर्चा में फूट, आंदोलन वापसी पर फैसला कल
सीएम धामी ने की देवस्थानम बोर्ड को समाप्त करने की घोषणा, शीतकालीन सत्र में लाया जाएगा प्रस्ताव

बंगाल में अब पानी के साथ चावल में भी है आर्सेनिक की प्रचुर मात्रा

स्वास्थ्य विशेषज्ञों का कहना है कि आर्सेनिकयुक्त भोजन शरीर में कैंसर की शुरुआत का कारण बनता है   भूजल में सबसे अधिक आर्सेनिक पाए जाने वाले राज्यों में शुमार पश्चिम बंगाल के निवासियों के लिए चिंता बढ़ती ही जा रही है। इसकी वजह है कि यहां पानी के साथ अब चावल में भी बड़े पैमाने पर आर्सेनिक पाया गया है। बंगाल देश का एक ऐसा राज्य है, जहां सालभर धान की खेती होती है। यहां के मूल निवासी बंगाली समुदाय रोटी के बजाय चावल ही सबसे अधिक खाता है और रिसर्च में इस बात का खुलासा हुआ है कि आर्सेनिक की मौ ...

बंगाल में अब पानी के साथ चावल में भी है आर्सेनिक की प्रचुर मात्रा