‘‘पत्रकारों पर है महत्वपूर्ण जिम्मेदारी’’
स्रोत:    दिनांक 06-जून-2018

गत दिनों हरियाणा में गुरुग्राम के सेक्टर 14 स्थित राजकीय महिला महाविद्यालय में नारद जयंती के उपलक्ष्य में विश्व संवाद केंद्र द्वारा राज्य स्तरीय पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में हरियाणा के मुख्यमंत्री श्री मनोहर लाल भी उपस्थित थे। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि पत्रकारों पर आज महत्वपूर्ण जिम्मेदारी है , इसलिए कोई भी समाचार लिखते समय गहन चिंतन करना चाहिए। देवर्षि नारद सृष्टि के पहले पत्रकार थे , वे दैवीय शक्तियों से भी मिलते थे और दानवों से भी मिलते थे , पर उनका उद्देश्य हमेशा समाज हित ही रहा। इसलिए पत्रकार की पहली प्राथमिकता राष्ट्रीय विचार ही होना चाहिए। यह सच है कि पत्रकारिता का कार्य आसान नहीं है। पत्रकारों को समय-समय पर संकटों और जोखिमों को सहना होता है। ऐसे में बौद्धिक सूझबूझ से ही इन खतरों से निबटा जा सकता है। उन्होंने कहा कि सोशल मीडिया ने पत्रकारिता क्षेत्र में नई चुनौतियां पैदा की हैं। आप कोई बात अगर बिना तथ्यों के बोल रहे हैं तो उसका खुलासा होते देर नहीं लगती। पत्रकारिता की विश्वसनीयता बनी रहे , इसलिए बिना आधार के समाचारों को प्रकाशित नहीं करना चाहिए। कार्यक्रम में उपस्थित प्रो़ राकेश सिन्हा ने कहा कि आज से कुछ वर्ष पहले तक पत्रकारिता राज्य सरकार , प्रशासन को चुनौती देती थी , लेकिन आज वह गंभीर चुनौती के दौर से गुजर रही है।  


 
श्री रोहित सरदाना को हरियाणा गौरव सम्मान से सम्मानित करते श्री मनोहर लाल। मंच पर (दाएं) श्री राकेश सिन्हा  

उन्होंने कहा कि पश्चिम की पत्रकारिता पूंजीवादी पत्रकारिता थी , लेकिन भारतीय पत्रकारिता पुरुषार्थी पत्रकारिता है। भारत की पत्रकारिता ने हिंदुस्थान की तस्वीर बदलने में अहम भूमिका निभाई थी। हिंदुस्थान में छोटी-छोटी पत्रिकाओं ने अपने लेखों के माध्यम से भारत की तस्वीर बदली है। इसलिए पत्रकारों को अपने लेखों आदि के माध्यम से सच को सामने लाना है। इस अवसर पर कई वरिष्ठ पत्रकारों को हरियाणा गौरव सम्मान से सम्मानित किया गया।