''शाखा समाज को मजबूत बनाती है''
स्रोत:    दिनांक 16-जनवरी-2019
 
बस्ती संगम कार्यक्रम में पुस्तक लोकार्पित करते (मध्य में) श्री मोहनराव भागवत एवं अन्य अन्य अतिथिगण
गत दिनों चेन्नै महानगर द्वारा बस्ती संगम का भव्य आयोजन किया गया। संगम में मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक श्री मोहनराव भागवत। उन्होंने स्वयंसेवकों को संबोधित करते हुए कहा कि शाखा में एक अच्छे स्वयंसेवक का निर्माण तो होता ही है, एक अच्छे राष्ट्रभावी व्यक्तित्व का भी निर्माण होता है। यहां कोई ऊंचा-नीचा नहीं होता। सब समानता के साथ एक भाव लेकर राष्ट्र निर्माण की दिशा में कार्य करने का प्रण लेते हैं। उन्होंने कहा कि हिन्दू समाज को जात-पात के नाम पर तोड़ने के कुप्रयास होते रहे हैं। क्योंकि हिन्दू को जातियों में बांटकर दिखाने का प्रयास किया जाता है। यहीं से समाज टूटना शुरू होता है और हम बिखरते चले जाते हैं जबकि हम सब एक हैं।
हम अपने गौरवशाली अतीत को भूल गए और स्वार्थी बन गए। इसीलिए कालांतर में हम मुट्ठी भर लोगों के गुलाम हो गए। आज भी चाहे राम के नाम पर हो या शबरीमला मंदिर मामले में—इन्हीं ताकतों का दुस्साहस देखने को मिल रहा है। हिन्दू समाज को एकजुट और अजेय बनाने के लिए डॉ. साहेब ने संघ की स्थापना की थी और शाखा उसी हिन्दू समाज को एकजुट करने का सरल तरीका है।