केंद्र सरकार के हस्तक्षेप के बाद मिली नागरिकता
    दिनांक 11-दिसंबर-2019
a_1  H x W: 0 x  
नागरिकता प्रमाण पत्रों के साथ विस्तापित हिन्दू
 
 
नागरिकता प्रमाणपत्र मिलने के बाद उनकी आंखें छलक उठीं तथा सबने मिलकर भारत माता की जय का नारा लगाया।
 
पाकिस्तान से भारत आए 21 हिन्दू विस्थापितों को राजस्थान में नागरिकता मिल गयी है। जयपुर के जिला कलेक्टर ने वर्षों से रह रहे इन विस्थापितों को नागरिकता प्रदान की। नागरिकता प्रमाणपत्र मिलने के बाद उनकी आंखें छलक उठीं तथा सबने मिलकर भारत माता की जय का नारा लगाया। ये सभी लोग पाकिस्तान के बिगड़ते हालात और अल्पसंख्यक हिन्दुओं पर हो रहे अत्याचारों से परेशान होकर अपनी जान बचाकर राजस्थान आ गए थे। ध्यान देने वाली बात यह है कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने राजस्थान सरकार के उस आदेश पर तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी थी, जिसमें पाकिस्तानी हिन्दू शरणार्थियों को वापस भेजने की बात कही गई थी। विदेशियों के प्रत्यर्पण के सम्बन्ध में गृह मंत्रालय ने अपने अधिकार का इस्तेमाल करते हुए राज्य सरकार के आदेश पर रोक लगा दी थी। कांग्रेस की अशोक गहलोत सरकार ने हिन्दुओं को भारत छोड़कर पाकिस्तान चले जाने का आदेश दिया था। उल्लेखनीय है कि दो माह में 35 पाकिस्तानी विस्थापितों को भारत की नागरिकता दी गई है। उधर 28 अन्य पाकिस्तानी प्रवासियों ने भी भारतीय नागरिकता के लिए आवेदन किया है और उसके लिए प्रक्रिया चल रही है, इसके अलावा 63 अन्य मामलों में भी जांच हो
रही है।