किशाभाऊ पटवर्धन जन्मशती वर्ष का शुभारंभ
   दिनांक 16-दिसंबर-2019
a_1  H x W: 0 x
 
कार्यक्रम को संबोधित करते श्री भैयाजी जोशी। 
 
 मुख्य सभागृह में स्व. किशाभाऊ पटवर्धन जन्मशती वर्ष का शुभारंभ हुआ।
 
गत 3 दिसंबर को पुणे स्थित आबा साहेब गरवारे महाविद्यालय के मुख्य सभागृह में स्व. किशाभाऊ पटवर्धन जन्मशती वर्ष का शुभारंभ हुआ। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित थे राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के सरकार्यवाह श्री भैयाजी जोशी। समारोह को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि किशाभाऊ जी के जीवन से प्रेरणा लेकर हम सबको काम करना चाहिए और यही उन्हें सच्ची श्रद्धाञ्जलि होगी। किशाभाऊ जी केवल अभिभावक, मार्गदर्शक नहीं, बल्कि एक मित्र थे, जिनकी मित्रता की कोई सीमा नहीं थी। उन्होंने किशाभाऊ जी का स्मरण करते हुए कहा कि उन्होंने केवल सपना नहीं देखा, बल्कि उसे वास्तव में उतारा। संकल्प शक्ति एवं मनोशक्ति के सात्विक साधनों पर आधारित भाव का उन्होंने हरेक के मन में निर्माण किया और इस तरह वर्धिनी का कार्य बना। उन्होंने ही ज्ञान की भूख आम लोगों में जगाई। श्री भैयाजी ने कहा कि शिक्षा को अंतर्बाह्य संस्कारों से जोड़ना होगा और वर्धिनी को ऐसे सेवक बनाने होंगे जो प्रदूषित माहौल में भी चारित्र्य संपन्न हों। कार्यक्रम की अध्यक्षता वरिष्ठ वैज्ञानिक पद्मविभूषण डॉ. रघुनाथराव माशेलकर ने की। उल्लेखनीय है कि 'स्व'-रूपवर्धिनी संस्था 40 वर्ष से समाज के वंचित, उपेक्षित वर्गों के लड़के-लड़कियों के लिए काम कर रही है। विसंके, पुणे