आईलव यू विभु बोलकर दी बलिदानी मेजर विभु की पत्नी ने विदाई, बोलीं, तुम मुझसे ही नहीं पूरे देश से प्यार करते थे
   दिनांक 20-फ़रवरी-2019
 
- देहरादून से दिनेश मानसेरा                      

जम्मू कश्मीर में आतंकियों से मुठभेड़ के दौरान बलिदान हुए मेजर विभूति नारायण ढौंडियाल का पार्थिव शरीर जब उनके निवास स्थान पहुंचा तो उनकी वीरांगना पत्नी निकिता ने उन्हें देख कर कहा..तुम झूठ बोलते थे कि तुम मुझसे ही प्यार करते थे पर आप तो पूरे देश से प्यार करते थे। दोनों की पिछले साल अप्रैल में ही शादी हुई थी। निकिता बोलीं विभूति मैं तुमसे अंतिम सांस तक प्यार करूंगी। मैं लोगों से कहूंगी कि लोग सहानुभूति न जताएं। आप सच में मेरे हीरो हो। मेरे लिए बेहद गर्व की बात है कि मैं आपकी पत्नी हूं। मेरा पति वीर है। वह मेरा ही नहीं बल्कि पूरे देश का हीरो है।
 
मुझे इस बात का दर्द है कि आप मुझे छोड़कर जा रहे हैं लेकिन मैं जानती हूं कि आप हमेशा मेरे आसपास ही रहोगे। आप मुझसे कभी दूर नहीं हो सकते। हमेशा मेरे साथ रहोगे। एक अमर प्रेम की तरह। आपने मुझे स्थिर और केंद्रित रहना सिखाया। जब तक मेरी सांस चलेगी, तब तक मैं सिर्फ आपको ही प्यार करूंगी। मैं सबसे प्रार्थना करती हूं कि वह उनके बलिदान पर सुहानूभुति न जताएं। उनकी कुर्बानी, जिम्मेदारी, देश के प्रति अहसास को समझें। निकिता ने तीन बार जय हिंद का उदघोष किया और अंत में कहा "आई लव यू विभु"। ये भावुक दृश्य देख कर मेजर विभूति के अंतिम संस्कार में पहुंचे सभी लोगों की आंखें नम हो गईं। भावनाओं का ज्वार उमड़ पड़ा। मेजर की अंतिम यात्रा में हजारों की संख्या में लोग भारत माता की जय के नारे लगाते हुए हरिद्वार पहुंचे जहां सैन्य सम्मान के साथ बलिदानी मेजर विभूति शंकर ढौंडियाल का अंतिम संस्कार कर दिया गया।