चुनाव का पहला चरण दोपहर 12 बजे तक हुआ 24 फीसदी मतदान
   दिनांक 11-अप्रैल-2019
  
दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र की सबसे बड़ी पंचायत के चुनाव का पहला चरण शुरू हो चुका है. सुबह से भारी संख्या में मतदाता , मतदान केन्द्रों पर पहुंच चुके हैं. दोपहर 12 बजे तक करीब 24 फीसदी मतदान हो चुका था. निर्वाचन आयोग ने सत्रहवीं लोकसभा के चुनाव को सात चरण में बांटा है. गुरूवार को पहले चरण के मतदान के साथ ही बड़े - बड़े दिग्गजों का भविष्य ई. वी. एम मशीन में कैद हो जाएगा. मतगणना 23 मई को होगी. इस पहले चरण में देश के 14.21 करोड़ मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे. सात चरणों में होने वाले इस लोकसभा चुनाव में कुल 90 करोड़ मतदाता हैं. प्रथम चरण में 18 राज्यों एवं दो केंद्र शासित प्रदेशों की 91 सीटों पर सांसद चुनने के लिए लोग मतदान कर रहे हैं. इसमें उत्तर प्रदेश की 8 लोकसभा सीट के लिए मतदान हो रहा है. उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट किया है कि "पहले मतदान फिर जलपान."
उत्तराखंड में भी सभी पांच लोकसभा सीट के लिए मतदान हो रहा है. उत्तर प्रदेश की सबसे चर्चित लोकसभा सीट कैराना में वोट डाले जा रहे हैं. आज के चुनाव में उत्तर प्रदेश के दो दिग्गज नेताओं की लोकसभा सीट का भी फैसला होना है. गौतमबुद्ध नगर से केन्द्रीय मंत्री डॉ महेश शर्मा, गाजियाबाद से केन्द्रीय मंत्री वी. के. सिंह की लोकसभा सीट का फैसला आज ई.वी.एम. में कैद हो जाएगा. पश्चिमी उत्तर प्रदेश में दल - बदल के माहिर नेता चौधरी अजित सिंह मुज्जफरनगर लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में हैं. अजित सिंह , सपा - बसपा और रालोद - गठबंधन के प्रत्याशी हैं. इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश की सहारनपुर , मेरठ , बिजनौर और बागपत के प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला आज शाम तक हो जाएगा.
पश्चिमी उत्तर प्रदेश के कुछ जनपद जहां पर जाटों की संख्या ज्यादा है उसे जाटलैंड के नाम से भी जाना जाता है. जाट, प्रथम चरण के इस मतदान को खासा प्रभावित कर रहे हैं. चौधरी अजित सिंह और उनके बेटे जयंत चौधरी की किस्मत का फैसला प्रथम चरण में ही होना है. मुजफ्फरनगर की लोकसभा सीट पर जाटों और मुसलमानों के मत के भरोसे चौधरी अजित सिंह चुनाव लड़ रहे हैं जबकि मुजफ्फरनगर लोकसभा से भाजपा प्रत्याशी डॉ संजीव बालियान अपने विकास कार्यों के आधार पर चुनाव मैदान में हैं. उधर बागपत लोकसभा सीट पर चौधरी अजित सिंह के बेटे जयंत चौधरी चुनाव लड़ रहे हैं. जयंत चौधरी के दादा पूर्व प्रधानमंत्री थे. उनके पिता चौधरी अजित सिंह केन्द्रीय मंत्री रहे हैं. इसके अलावा जयंत के पास बताने के लिए कुछ भी नहीं है जबकि बागपत लोकसभा सीट से सत्यपाल सिंह ने गत 5 वर्षों में विकास कार्य किया. अपने विकास कार्य एवं राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर वह जनता के बीच में हैं.
  
आज के प्रथम चरण के मतदान में महाराष्ट्र की नागपुर लोकसभा सीट पर भी मतदान हो रहा है. नागपुर लोकसभा सीट से भाजपा के दिग्गज नेता एवं केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी चुनाव मैदान में हैं. बिहार में जमुई लोकसभा सीट से राम विलास पासवान के बेटे चिराग पासवान एवं उत्तराखंड की उधमसिंह नगर ,लोकसभा सीट से कांग्रेस के नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री हरीश रावत की किस्मत का फैसला आज शाम 6 बजे तक हो जाएगा.