''शब्द ही पत्रकार के धर्म और अधर्म को तय करते हैं''
   दिनांक 22-जुलाई-2019
 
 
सम्मानित किए गए पत्रकारों के साथ सर्वश्री सुरेश भारद्वाज एवं तरुण विजय

गत दिनों विश्व संवाद केंद्र, शिमला द्वारा होटल होली-डे होम में नारद जयंती के उपलक्ष्य में राज्य स्तरीय पत्रकार सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में राज्य के शिक्षा मंत्री श्री सुरेश भारद्वाज एवं मुख्य वक्ता के रूप में पूर्व राज्यसभा सदस्य श्री तरुण विजय उपस्थित रहे। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्री तरुण विजय ने कहा कि शब्द ही पत्रकार के धर्म और अधर्म को तय करते हैं। एक पत्रकार को धर्म और अधर्म का ज्ञान होना बहुत जरूरी है। यह ज्ञान जब प्राप्त हो जाएगा तो राष्ट्र निर्माण में स्वयं ही भूमिका तय हो जाएगी। वैचारिक पक्ष की अदूरदर्शिता के कारण सत्य और असत्य को विकृत पत्रकारिता के स्वरूप में आज सर्वत्र दिखाया जा रहा है। इसका विवेकपूर्ण निर्णय करने की आवश्यकता है। श्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि आज पत्रकारिता में धर्म एवं मानदंड स्थापित करने की आवश्यकता है। आजादी के बाद का दौर पत्रकारिता के क्षेत्र में काफी प्रभावी रहा है। उन्होंने पत्रकारों से आह्वान किया कि वे नकारात्मक के स्थान पर सकारात्मक समाचार छापें।