अलवर में हिंदू युवक को मुसलमानों की भीड़ ने पीट—पीटकर मार डाला
   दिनांक 23-जुलाई-2019
राजस्थान के अलवर जिले में मामूली सी बात पर मुसलमानों की भीड़ ने एक हिंदू युवक की पीट-पीटकर बेरहमी से हत्या कर दी. युवक की गलती सिर्फ इतनी थी कि बाइक पर जाते समय रास्ते में एक मुस्लिम महिला से मामूली रूप से उसकी मोटरसाइकिल टकरा गई थी. कहासुनी के दौरान वहां एकत्रित हुई मुसलमानों की भीड़ ने युवक को पीट—पीटकर मार दिया.
मॉब लिंचिंग का शिकार हुआ मृतक हरीश (फाइल फोटो) 
 
घटना भिवाडी के चैपानकी थाना इलाके के फलसा गांव की है। जानकारी के अनुसार 16 जुलाई को झिवाना गांव निवासी हरीश मोटरसाइकिल से कहीं जा रहा रहा था. रास्ते में उसकी मोटरसाइकिल की एक महिला से टक्कर हो गई. थोड़ी—बहुत कहासुनी होने के चलते वहां मुसलमानों की भीड़ जमा हो गई. उन्होंने हरीश को बुरी तरह पीटना शुरू कर दिया. भीड़ ने उसे मार—मारकर अधमरा कर दिया. उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया जहां 18 जुलाई की रात दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई।
पुलिस नहीं मान रही माॅब लिचिंग
घटना के सम्बंध में अलवर पुलिस का दोहरा रवैया सामने आया है। पुलिस ने मारपीट को दुर्घटना से जोड़कर सामान्य घटनाक्रम बताते हुए एफआईआर दर्ज की है, जबकि जहां घटना हुई वह मुस्लिम बहुल गांव है. मुस्लिम महिला से मामूली रूप से मोटरसाइकिल टकराने के बाद ही उस पर वहां मौजूद मुसलमानों की भीड़ ने हमला किया था. वहीं अलवर में पहलू खान की मौत को पुलिस ने माॅब लिचिंग मानते हुए अलग धाराएं लगाई थी। इस घटना पर पुलिस और प्रशासन ने चुप्पी साध ली है.