सरसंघचालक ने किए भगवान वरदराज के दर्शन
   दिनांक 02-अगस्त-2019

गत दिनों राष्टÑीय स्वयंसेवक संघ के सरसंघचालक श्री मोहनराव भागवत तमिलनाडु में कांचीपुरम स्थित श्री वरदराज मंदिर गए। वहां उन्होंने भगवान श्री वरदराज का दर्शन-पूजन किया। भगवान वरदराज विष्णु के अवतार माने जाते हैं। इस मंदिर में भगवान की मूल मूर्ति के दर्शन जीवन में दो या तीन बार ही किए जा सकते हैं। ऐसा इसलिए होता है कि क्योंकि इस मूर्ति को मंदिर के पास स्थित एक सरोवर में सुरक्षित तरीके से रखा जाता है। इस मूर्ति को 40 साल में एक बार जल से निकाला जाता है और 48 दिन तक श्रद्धालुओं को दर्शन करने की अनुमति दी जाती है। इसके बाद यह मूर्ति पुन: सरोवर में रख दी जाती है। इन दिनों यह मूर्ति बाहर रखी गई है।


 

इस वर्ष 17 अगस्त तक इसके दर्शन किए जा सकते हैं। मान्यता है कि भगवान वरदराज ब्रह्मा द्वारा संचालित यज्ञ से उत्पन्न हुए हैं। कहा जाता है कि आग से निकलने के कारण मूल मूर्ति बहुत गर्म रहती थी और पुजारी मूर्ति पर पानी डालते थे। यह भी कहा जाता है कि इन दिनों जो लोग उस मूर्ति के पास जाते हैं, उन्हें गर्मी का अहसास होता है।

 

भगवान वरदराज के दर्शन करते हुए सरसंघचालक श्री मोहनराव भागवत। दर्शन के पश्चात् वहां के पुजारियों के साथ श्री भागवत 

 
भगवान ने स्वयं मंदिर के पास स्थित सरोवर में आराम करने की इच्छा व्यक्त की थी। जब तक वे तालाब में विश्राम करते हैं तब तक उन्हें श्री अथि वरधरकहा जाता है। भगवान के दर्शनों के लिए आने वाले भक्तों को कोई असुविधा न हो, इसके लिए सेवा भारती, तमिलनाडु के कार्यकर्ता व्यवस्था में सक्रिय रहते हैं। ये कार्यकर्ता भक्तों के लिए भोजन, पानी का प्रबंध करते हैं। यही नहीं, वे उनके स्वास्थ्य की भी चिंता करते हैं। विसंके, चेन्नै

सेल्फी विथ कैंपस यूनिट’ का जोर

 

बैठक में अभियान के पोस्टर दिखाते कार्यकर्ता 

पिछले दिनों बिहार के छपरा में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद् (अभाविप) की छपरा इकाई की बैठक हुई। इसमें अभाविप द्वारा चलाए जा रहे सेल्फी विथ कैंपस यूनिटमहा-अभियान पर विस्तार से चर्चा हुई। बैठक को संबोधित करते हुए अभाविप के विश्वविद्यालय संगठन मंत्री धीरज कुमार ने कहा कि इस अभियान के तहत अभाविप के कार्यकर्ता शैक्षणिक संस्थानों को छात्रों की समस्याओं से अवगत कराएंगे और उनका सामधान निकालने का प्रयास किया जाएगा। इस अवसर पर अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे। प्रतिनिधि