मौलाना ने किया महिला सिपाही का यौन शोषण
   दिनांक 02-जनवरी-2020
 
maulana _1  H x
 
महिला सिपाही से दुष्कर्म के आरोप में पकड़ा गया मौलाना जुबैर
 बागपत जनपद में एक मौलाना ने महिला सिपाही को झाड़ -फूंक के चक्कर में फंसा कर उसका यौन शोषण किया. जब महिला सिपाही को उस मौलाना की हकीकत पता लगी तो उसने एफ.आई.आर दर्ज करा दी. मौलाना को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया गया है. बिजनौर जनपद की रहने वाली महिला सिपाही के पति की वर्ष 2006 में मृत्यु हो गई थी. पति की मृत्यु के पश्चात मृतक आश्रित कोटे में महिला को सिपाही के पद पर नौकरी मिली थी. हाल ही में महिला का प्रमोशन हुआ और उसकी तैनाती बागपत जिले के एक थाने में हो गई. गत वर्ष जून के महीने में पीड़िता का का बेटा एक दुर्घटना में घायल हो गया था. गंभीर रूप से घायल होने की वजह से उसे आई.सी.यू. में भर्ती करना पड़ा था. इस दौरान पीड़िता को किसी ने झाड़—फूंक कराने की सलाह दी. वह मोमिन मस्जिद के मौलाना जुबैर से मिलीं. जुबैर ने उसे झांसे में ले लिया और उसे अकेले में मिलने के लिए बुला लिया. आरोप है कि इस दौरान उसने पीड़िता के बेटे पर प्रेतआत्मा का साया बताया और उसके साथ दुष्कर्म किया। करीब एक वर्ष तक वह झाड़—फूंक के नाम पर महिला का शोषण करता रहा. इसके चलते वह मानसिक तौर पर परेशान रहने लगीं. उसने जुबैर से मिलना बंद कर दिया तो वह उसे परेशान करने लगा। इस पर पीड़िता ने उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज करा दी. मौलाना फरार हो गया। हाल ही में पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है.
एक ही एक अन्य घटना में उत्तर प्रदेश के अमरोहा जनपद के हसनपुर क्षेत्र में स्थित आवासीय मदरसे में पढ़ने वाली 12 वर्षीय छात्रा के साथ मौलाना बहार अली ने दुष्कर्म किया. 24 दिसम्बर को पीड़िता के परिजनों ने एफ.आई.आर दर्ज कराई. पुलिस के मुताबिक पीड़ित बच्ची को उसके घर वालों ने इस्लाम धर्म की शिक्षा लेने के लिए मदरसे में भेजा था. वहीं पर रह कर वह पढ़ाई कर रही थी. 23 दिसंबर को पीड़ित बच्ची के परिजन जब मिलने पहुंचे तब पीड़िता ने बताया कि 20 दिसंबर की रात में मौलाना बहार अली आया और उसके साथ दुष्कर्म किया. पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है.