आबिद, महबूब, बाबू, चांद, जमील और फिरोज नाबालिग से दुष्कर्म के प्रयास में गए थे जेल, बेल पर छूटे तो पीड़िता की मां को मार डाला
   दिनांक 20-जनवरी-2020
वर्ष 2018 में 13 वर्षीय नाबालिग लड़की को अगवा करके बलात्कार का प्रयास किया था. जेल गए जब छूटे तो पीड़िता के घर में घुसे और समझौते का दबाब बनाया जब उसकी मां ने मना किया तो मार डाला

kanpur _1  H x
 वीडियो से लिए गए स्क्रीन शॉट में पीड़िता की मां का सिर कुचलता हुआ आबिद
आबिद , मिंटू, महबूब, चांद बाबू, ज़मील और फिरोज़ ने वर्ष 2018 में 13 वर्षीय नाबालिग लड़की को अगवा करके बलात्कार का प्रयास किया था. इस घटना के बाद ये सभी गिरफ्तार करके जेल भेजे गए थे. जमानत पर रिहा होने के बाद 9 जनवरी को ये अभियुक्त पीड़िता के घर में जबरन घुस गए और समझौता करने के लिए धमकाया. पीड़िता की मां जो इस मुकदमे की मुख्य गवाह भी थीं. उन्होंने समझौता करने से इंकार कर दिया तब इन अभियुक्तों ने चापड़ और डंडे से हमला कर दिया. इस हमले का वीडियो भी वायरल हुआ जिसमे साफ़ दिखाई दे रहा है कि एक अभियुक्त अपने पैरों से पीड़िता की मां का सिर कुचल रहा है. इस हमले में घायल पीड़िता की मौसी अस्पताल में भर्ती हैं जबकि पीड़िता की मां की मृत्यु हो गई. इस मामले में थाना चकेरी की पुलिस ने अभी तक 7 अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया है जबकि 7 अभियुक्तों की गिरफ्तारी अभी भी बाकी है.
उल्लेखनीय है कि वर्ष 2018 में 13 बच्ची के साथ आरोपियों ने बलात्कार करने की कोशिश की गई थी. पीड़िता की मां रूबी ने अभियुक्तों के खिलाफ नामजद एफ.आई.आर कराई थी. अभी हाल ही में इन अभियुक्तों को न्यायालय से जमानत मिली थी. पीड़िता के परिजनों की तरफ से थाना चकेरी में जानलेवा हमला एवं छेड़ छाड़ करने की एफ.आई.आर दर्ज कराई गई. घटना के बाद आस- पास के इलाके में तनाव व्याप्त हो गया. स्थिति के सामान्य होने तक पीड़िता के घर के बाहर पुलिस तैनात की गई है.