अयाज अहमद ने हिंदू लड़की से शादी की फिर चरित्र पर शक किया और बर्बरता से मार डाला
   दिनांक 21-जनवरी-2020
लड़की का नाम था रेशमा मंगलानी था। महज 22 साल की थी। दो साल पहले अयाज अहमद अंसारी से लवमैरिज की थी। खुले विचारों वाली लड़की को फेसबुक पर दोस्त बनाना पसंद था लेकिन उसके पति को यह पसंद नहीं था। उसके फेसबुक पर फॉलोवर बढ़े तो उसकी निर्ममता से हत्या कर दी।

jaipur _1  H x
जयपुर के आमेर इलाके में 20 जनवरी की सुबह पुलिस को दिल्ली हाईवे के किनारे एक लड़की की खून से लथपथ लाश मिली। पास में ही झाड़ियों के पास एक स्कूटी और एक हेलमेट भी मिला। मिले। पुलिस ने छानबीन शुरू की, तो पता चला कि लड़की के पति ने ही उसकी हत्या की थी क्योंकि उसे लगता था कि उसकी पत्नी का किसी और लड़के से संबंध है। पुलिस ने आरोपी को ​गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस घटनास्थल से मिली स्कूटी के आधार पर लड़की के घर पहुंची। वहां पता चला कि लड़की का नाम रेशमा मंगलानी उर्फ नैना है। रेशमा की मां ने बताया कि नैना ने दो साल पहले अयाज से शादी की थी, उनका तीन महीने का एक बेटा भी है, लेकिन पिछले दो महीने से दोनों अलग रह रहे थे। नैना अपने मायके में रह रही थी। 19 जनवरी के दिन अयाज ने नैना को सुलह करने के बहाने मिलने बुलाया था।
जानकारी के आधार पर पुलिस ने अयाज गिरफ्तार कर पूछताछ की तो उसने बताया कि करीब दो साल पहले उसकी रेशमा उर्फ नैना मंगलानी (22) से लव मैरिज हुई थी। फेसबुक पर पत्नी के 6 हजार से ज्यादा फॉलाेअर हैं, वह हमेशा मोबाइल पर ही व्यस्त रहती थी। इसके चलते अयाज नैना पर शक करने लगा था। अयाज ने पुलिस को बताया कि उसे लगता था कि नैना का किसी दूसरे लड़के के साथ भी रिलेशन हैं। दोनों के बीच झगड़े होने लगे थे। आखिर नैना अपने घर चली गई।
रविवार सुबह उसने मायके से पत्नी को सुलह के बहाने बुलाया। दिनभर घुमाया। उसे बीयर पिलाई। इसके बाद रात को आमेर इलाके में जयपुर-दिल्ली हाईवे पर नई माता मंदिर के पास सुनसान जगह पर गला घोंटकर हत्या कर दी। शव की पहचान छिपाने के लिए भारी पत्थर से सिर और चेहरा कुचल दिया।’’ इसके बाद वह वहां से भाग निकला।