माथे पर चन्दन और हाथ में कलावा बांधकर आठवीं फेल बिलाल खुद को बताता था दिल्ली यूनिवर्सिटी का छात्र, मकसद था लव जिहाद

    दिनांक 22-अक्तूबर-2020   
Total Views |
करीब दो वर्षों से बिलाल घोशी हिन्दू लड़की का पीछा कर रहा था। लड़की के घरवालों ने इस बात की शिकायत पुलिस से की थी, मगर उस समय पुलिस ने मामला दर्ज नही किया। फिलहाल, लड़की के अगवा हो जाने के बाद पुलिस लड़की और बिलाल को सरगर्मी के साथ तलाश रही है।  457_1  H x W: 0
बरेली जनपद के किला थाना अंतर्गत रहने वाला बिलाल घोशी हिन्दू लड़की के साथ स्कूल में पढ़ता था। कक्षा आठ में फेल हो जाने के बाद उसने पढ़ाई छोड़ दी थी। बिलाल का पिता दूध की डेरी चलाता है। पढ़ाई छोड़ने के बाद बिलाल भी दूध-दही बेचने के कारोबार में लग गया। करीब दो वर्षों से बिलाल घोशी हिन्दू लड़की का पीछा कर रहा था। लड़की के घरवालों ने इस बात की शिकायत पुलिस से की थी, मगर उस समय पुलिस ने मामला दर्ज नही किया। फिलहाल, लड़की के अगवा हो जाने के बाद पुलिस लड़की और बिलाल को सरगर्मी के साथ तलाश रही है। पहले उसकी लोकेशन हल्द्वानी में मिली थी। बाद में फ़ोन की लोकेशन दिल्ली में मिली। बिलाल घोशी ने अब अपना मोबाइल फ़ोन बंद कर लिया है, इसलिए लोकेशन नहीं मिल पा रही है। लड़की के पिता का आरोप है कि उनकी बेटी को बहला–फुसलाकर बिलाल ने अगवा कर लिया है। बिलाल और उसके साथी उनकी बेटी की हत्या भी कर सकते हैं।
उल्लेखनीय है कि इस लव जिहाद के प्रकरण को लेकर हिन्दू संगठनों ने थाने का घेराव किया और तत्काल कार्रवाई की मांग की। इसके बाद बरेली जनपद के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने किला थाने के इन्स्पेक्टर को हटा दिया। बरेली की पुलिस अभी तक लड़की को बरामद नहीं कर सकी।