पाकिस्तान में नहीं थम रहा धार्मिक स्थलों को नुकसान पहुंचाने का सिलसिला, कट्टरपंथियों ने मंदिर में की तोड़फोड़ और मूर्ति को किया खंडित

    दिनांक 26-अक्तूबर-2020   
Total Views |

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार और हिंदू धर्म स्थलों को नुकसान पहुंचाने का सिलसिला थम नहीं रहा है। पिछले दिनों पाकिस्तान के सिंध प्रांत के नगरपारकर में इस्लामिक कट्टरपंथियों ने माता दुर्गा के प्राचीन मंदिर में तोड़फोड़ की और मूर्ति को भी नुकसान पहुंचाया।

p_1  H x W: 0 x

पाकिस्तान में अल्पसंख्यकों पर अत्याचार और हिंदू धर्म स्थलों को नुकसान पहुंचाने का सिलसिला थम नहीं रहा है। पिछले दिनों पाकिस्तान के सिंध प्रांत के नगरपारकर में इस्लामिक कट्टरपंथियों ने माता दुर्गा के प्राचीन मंदिर में तोड़फोड़ की और मूर्ति को भी नुकसान पहुंचाया। इस्लामिक कट्टरपंथियों ने यह हरकत तब की जब कुछ श्रद्धालुओं ने वहां नवरात्रि के मौके पर पूजा अर्चना की। कट्टरपंथियों ने मंदिर में घुस कर मां दुर्गा की मूर्ति के वाहन सिंह और विग्रह को नुकसान पहुंचाया।

इस खबर को भी पढ़ें

पाकिस्तान की पत्रकार नायला इनायत ने घटना की तस्वीरें ट्वीट करते हुए लिखा कि नगरपारकर में हिंदू मंदिर में तोड़फोड़ की गई है और देवी की प्रतिमा को नुकसान पहुंचाया गया। यह तब हुआ जब स्थानीय समुदाय के कुछ लोगों ने नवरात्रि की पूजा अर्चना की। बता दें कि ऐसा पहली बार नहीं है, जब पाकिस्तान में इस्लामिक कट्टरपंथियों ने हिंदू धार्मिक स्थलों को निशाना बनाया है। इससे पहले भी कट्टरपंथियों ने कई बार अलग-अलग मंदिरों को नुकसान पहुंचाया है। लेकिन इसके बावजूद पाकिस्तान सरकार इसके खिलाफ कोई ठोस कदम नहीं उठा रही है। जानकारी के मुताबिक इस घटना पर स्थानीय पुलिस से अभी तक कोई कड़ी कार्रवाई नहीं की है।

गौरतलब है कि पाकिस्तान में हिंदू और सिखों के कई ऐतिहासिक विरासत और धार्मिक स्थल हैं। लेकिन इस्लामिक कट्टरपंथी एक-एक करके सभी स्थलों को निशाना बना रहे हैं।