पंपोर में सुरक्षाबलों पर हमला करने वाले आतंकियों की हुई पहचान, आईजी कश्मीर ने कहा जल्द मारे जाएंगे

    दिनांक 06-अक्तूबर-2020   
Total Views |
सोमवार को श्रीनगर के पंपोर में घात लगाकर सीआरपीएफ जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों की पहचान कर ली गयी है। जम्मू—कश्मीर पुलिस के मुताबिक दोनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हुए हैं, जिसमें एक की पहचान पाकिस्तानी आतंकी सैफुल्लाह के तौर पर हुई है, जबकि दूसरा आतंकी स्थानीय है।
pappoor_1  H x

सोमवार को श्रीनगर के पंपोर में घात लगाकर सीआरपीएफ जवानों पर हमला करने वाले आतंकियों की पहचान कर ली गयी है। जम्मू—कश्मीर पुलिस के मुताबिक दोनों आतंकी लश्कर-ए-तैयबा से जुड़े हुए हैं, जिसमें एक की पहचान पाकिस्तानी आतंकी सैफुल्लाह के तौर पर हुई है, जबकि दूसरा आतंकी स्थानीय है। इन दोनों ने ही पंपोर में बाइक पर सवार होकर रोड ऑपरेटिंग पार्टी पर हमला किया।

सुरक्षाबल बिन जिम्मेदारी के जवाबी फाय़रिंग करते तो सिविलियंस को खतरा हो सकता था। लिहाजा इसी का फायदा लेकर आतंकी फरार होने में कामयाब रहे।

जम्मू—कश्मीर पुलिस के कश्मीर रेंज के आईजी विजय कुमार ने मीडिया को ये जानकारी दी। आपको बता दें कि सोमवार की दोपहर आतंकियों ने पंपोर के कंडीज़ल इलाके में हाईवे पर तैनात जवानों पर हमला किया था, जिसमें 2 सीआरपीफ जवान बलिदान हो गए और 3 अन्य घायल हो गए। इसके बाद सुरक्षाबलों ने आतंकियों की छानबीन के लिए एक सर्च अभियान शुरू कर दिया है। आईजी विजय कुमार ने बताया कि हाईवे बेहद व्यस्त रहता है, जहां सैकड़ों सिविलियन वाहन पास करते हैं। ऐसे में सुरक्षाबल बिन जिम्मेदारी के जवाबी फाय़रिंग करते तो सिविलियंस को खतरा हो सकता था। लिहाजा इसी का फायदा लेकर आतंकी फरार होने में कामयाब रहे।
 
इस बीच हमले में बलिदान सीआरपीएफ जवानों की भी पहचान जारी कर दी गयी है। इनमें 110 बटालियन के 34 वर्षीय चालक धीरेंद्र त्रिपाठी शामिल हैं, जो कि मध्य प्रदेश के निवासी हैं। इसके अलावा उत्तर प्रदेश के 36 वर्षीय कांस्टेबल शैलेंद्र प्रताप सिंह भी वीरगति को प्राप्त हुए।