‘कल’ से सुधरा कल

    दिनांक 19-नवंबर-2020   
Total Views |

अमदाबाद के संदीप पटेल ने नई मशीन का सहारा लेकर ‘लॉकडाउन’ के एक महीने बाद ही अपनी कंपनी की गतिविधियां शुरू कर दीं। इसमें कंपनी के कर्मचारियों का भी सराहनीय सहयोग रहा 

2_1  H x W: 0 x
संदीप पटेल (38 वर्ष)
कंपनी: राजकमल बिल्डर्स इनफ्रास्ट्रक्चर प्रा. लि.
वार्षिक कारोबार: 400 करोड़ रु.
चुनौती: नकदी की कमी।
रणनीति: ऐसी नई मशीन का उपयोग किया,
जिसमें कम से कम मजदूर लगते हैं। इस तरह
मजदूरों को महामारी से बचाया और काम भी चलता रहा।

अमदाबाद में ‘राजकमल बिल्डर्स इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रा. लि.’ नाम से एक भवन निर्माता कंपनी है। मार्च में ‘लॉकडाउन’ शुरू होते ही इसका पूरा काम ठप हो गया। कंपनी के निदेशक और कर्मचारी (स्थाई 175 और 800 अस्थाई) सभी परेशान होने लगे। तभी कंपनी ने तय किया कि ऐसी आधुनिकतम मशीन खरीदी जाए, जो कम मजदूरों के बिना ज्यादा काम कर सके। चूंकि कंपनी के पास ज्यादा सरकारी काम है, इसलिए सरकार से काम चालू करने की अनुमति मांगी गई। सरकार ने भी परियोजनाओं को जल्दी पूरा करने की अनुमति दे दी। इस तरह मई महीने में ही काम शुरू हो गया। कार्यालय से जुड़े हर कर्मचारी को लैपटॉप और इंटरनेट की सुविधा उपलब्ध कराकर उन्हें घर से काम करने को कहा गया।

सभी कर्मचारियों का स्वास्थ्य और जीवन बीमा भी कराया गया। काम चालू हुआ तो कुछ पैसे आने लगे। इसके बावजूद काम करने में दिक्कत हो रही थी। क्योंकि पूंजी  की उपलब्धता घट गई थी। इस स्थिति में कंपनी के कर्मचारियों ने निदेशक को एक प्रस्ताव दिया कि कंपनी का पहिया चलाए रखने के लिए वे आधे वेतन पर काम करने के लिए तैयार हैं। संदीप बताते हैं, ‘‘मुझे कर्मचारियों के प्रस्ताव को सुनकर बहुत ही अच्छा लगा और मन में कुछ कर गुजरने की हिम्मत आ गई। फिर तो कंपनी ने सरकारी निर्देशों का पालन करते हुए जितने भी मजदूर और कर्मचारी थे, उन्हें काम पर लगा दिया।

सबने मिलकर काम किया और अगस्त से स्थिति सामान्य होने लगी। जब कंपनी के पास पैसा आया तो कर्मचारियों को बकाया वेतन भी दे दिया गया। जो प्रवासी मजदूर अपने गांव चले गए थे, उन्हें लाने के लिए गुजरात से उत्तर प्रदेश, बिहार, झारखंड, ओडिशा के विभिन्न स्थानों पर बसें भेजी गइं। कुछ कारीगरों को तो हवाई जहाज से लाया गया।’’

अब यह कंपनी ‘लॉकडाउन’ से पूर्व वाली स्थिति में पहुंच गई है। संदीप पटेल का कहना है कि जल्दी ही कंपनी अपनी सभी परियोजनाओं को पूरा कर लेगी।