राफेल लड़ाकू विमानों का दूसरा जत्था भारत पहुंचा

    दिनांक 05-नवंबर-2020
Total Views |
तिब्बत सीमा पर चीन के साथ चल रहे तनाव के बीच भारतीय वायु सेना की ताकत को कई और गुना बढ़ाने वाले राफेल लड़ाकू विमानों की दूसरी खेप भी गुजरात के जामनगर एयरबेस पर पहुंच गई। एक ट्वीट कर भारतीय वायु सेना ने इस बात की जानकारी दी

rafale_1  H x W
भारत—तिब्बत सीमा पर चीन के साथ चल रहे तनाव के बीच भारतीय वायु सेना की ताकत को कई और गुना बढ़ाने वाले राफेल लड़ाकू विमानों की दूसरी खेप भी गुजरात के जामनगर एयरबेस पर पहुंच गई। एक ट्वीट कर भारतीय वायु सेना ने इस बात की जानकारी दी। ट्वीट में वायुसेना ने कहा कि राफेल विमान का दूसरा बैच फ्रांस से नॉन-स्टॉप उड़ान भरने के बाद 4 नवंबर, 2020 की रात 8:14 बजे भारत पहुंचा है। बता दें कि दूसरे जत्थे में 3 राफेल लड़ाकू विमान शामिल हैं। तीनों राफेल विमान फ्रांस से उड़ान भरने के बाद करीब 7,364 किलोमीटर का सफर नॉन स्टॉप पूरा करके भारत पहुंचे हैं। जिसके बाद अब भारतीय वायुसेना के बेड़े में कुल 8 राफेल लड़ाकू विमान हो गये हैं।
बता दें कि फ्रांस के एयरबेस से गुजरात के जामनगर तक की लंबी उड़ान के दौरान फ्रांसीसी वायुसेना का हवा में ईधन भरने वाला विमान भी साथ में था। गौरतलब है कि इससे पहले बीती 28 जुलाई को फ्रांस की कंपनी दसॉ एविएशन से पांच राफेल विमानों का पहला जत्था भारत पहुंचा था। इस बेड़े ने फ्रांस से उड़ान भरने के बाद संयुक्त अरब अमीरात में हाल्ट किया था, जहां विमानों में ईंधन भरा गया था। राफेल का पहला जत्था जब वायुसेना में शामिल किया गया था तब रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने इसे गेम चेंजर करार दिया था। क्योंकि राफेल डीएच (टू-सीटर) और राफेल ईएच (सिंगल सीटर), दोनों ही ट्विन इंजन, डेल्टा-विंग, सेमी स्टील्थ कैपेबिलिटीज के साथ चौथी जनरेशन के फाइटर जेट हैं।