हिंसा पीड़ितों की मदद के लिए सेवा भारती ने बढ़ाया हाथ
   दिनांक 10-फ़रवरी-2020
a_1  H x W: 0 x

पीड़ित हिन्दू परिवारों का दुख साझा करते सेवा भारती के कार्यकर्ता  
 
पिछले दिनों तेलगांना के भेंसा कस्बे में जिहादियों ने हिन्दुओं को निशाना बनाया था। इस दौरान उनके घर, दुकान, मकान और वाहनों को आग के हवाले कर दिया था। सेवा भारती ने हिंसा के शिकार पीड़ितों की सहायता के लिए हाथ बढ़ाया है और उनकी हरसंभव मदद करने का काम शुरू कर दिया है। पहले चरण में जिहादी हिंसा में प्रभावित 22 परिवारों को घर में उपयोग होने वाला आवश्यक सामान उपलब्ध करवाया जा रहा है। इसमें खाना बनाने के बर्तन, कपड़े, बिस्तर, अलमारी, फर्नीचर व अन्य आवश्यक सामान शामिल हैं। इसके अलावा प्रभावित परिवारों के लिए मकान के पुनर्निर्माण के लिए आर्थिक सहयोग प्रदान करने की योजना पर भी विचार चल रहा है, जिससे प्रभावित परिवारों को आवास की व्यवस्था पुन: उपलब्ध करवाई जा सके। -विसंकें, भेंसा, तेलंगाना
 
भरतपुर व टोंक में सीएए के समर्थन में निकली तिरंगा यात्रा
नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में देशभर में कार्यक्रम हो रहे हैं। इसी क्रम में राजस्थान के दो जिलों-भरतपुर व टोंक में बड़े कार्यक्रमों का आयोजन संपन्न हुआ। भरतपुर में राष्ट्रीय एकता मंच के नेतृत्व में विभिन्न संगठनों द्वारा नागरिकता संशोधन कानून के समर्थन में तिरंगा यात्रा निकाली गई। इसमें शामिल लोगों ने 300 फीट लंबा तिरंगा लेकर पैदल मार्च किया। इसी तरह टोंक शहर में सीएए के समर्थन में भी विशाल रैली निकाली गई। इसके बाद रामलीला मैदान में सभा का आयोजन हुआ। सभा को संबोधित करते हुए प्रणवेन्द्र शर्मा ने कहा कि कांग्रेस ने अपना वोट बैंक बनाने के लिए पाकिस्तान व बांग्लादेश से आए शरणार्थियों की परवाह नहीं की। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इन शरणार्थियों की रक्षा का बीड़ा उठाया है। श्री नरेंद्र मोदी ने शरणार्थियों को सम्मान से जीने का अधिकार दिया है लेकिन विपक्ष में खड़े लोगों को इससे दु:ख हो रहा है। उन्होंने कहा कि सीएए नागरिकता छीनने वाला नहीं, नागरिकता देने वाला है, लेकिन विपक्ष देश के लोगों को गुमराह कर रहा है। ऐसे में देश के लोगों को सच समझना चाहिए। - विसंकें, जयपुर