हमारा काम विषमता हटाकर समता का वातावरण तैयार करना है
   दिनांक 04-फ़रवरी-2020
 
a_1  H x W: 0 x
मंच पर विराजमान हैं श्री दत्तात्रेय होसबाले (दाएं)
पिछले दिनों गोरखपुर में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ की चार दिवसीय कार्यकर्ता बैठक संपन्न हुई। इस दौरान पूर्वी उत्तर प्रदेश क्षेत्र कार्यकारिणी, प्रान्त टोली व प्रान्त गतिविधि प्रमुखों को सम्बोधित करने के लिए मुख्य वक्ता के रूप में उपस्थित थे सह सरकार्यवाह श्री दत्तात्रेय होसबाले। बैठक को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि कुटुम्ब प्रबोधन गतिविधि के माध्यम से समाज में पारिवारिक आत्मीयता एवं देश के प्रति जिम्मेदारी का भाव जागृत करने के प्रयास किये जाते हैं। इस दौरान घर के प्रत्येक सदस्य को कोशिश करनी चाहिए कि वह सामूहिक रूप से भोजन तथा भजन के लिए प्रतिदिन अथवा सप्ताह में एक बार एकत्रित हों एवं मंगल संवाद करें। महीने में अपने पड़ोसियों से मंगल संवाद करें। अपना घर जिन सेवाकर्मी बन्धुओं एवं भगिनियों की सहायता से चलता है, उनके साथ संवाद एवं स्नेह का व्यवहार करें, त्योहार एवं अन्य प्रसंगों पर उन्हें सम्मान सहित आमंत्रित करें। नव दम्पतियों में सहयोग, सहभागिता, सहनशीलता, संयम, चारित्र एवं जिम्मेदारी के प्रति जागरूक करना हमारा कर्तव्य है। घर-परिवार से आलस्य, गलत सामाजिक मान्यताएं, बौद्धिक जड़ता, भय, स्वार्थ एवं अहंकार का त्याग करने की बातचीत होनी चाहिए एवं त्याग करने की मानसिकता बने। ऐसा करना कुटुम्ब प्रबोधन गतिविधि का लक्ष्य है। उन्होंने कहा कि समाज में जन्मजात विषमता को हटाकर समता एवं न्याय का वातारण तैयार करना है। संघ में यह कार्य प्रारम्भ से ही चल रहा है। समाज की विशेष परिस्थिति को ध्यान में लेकर गत सात वर्ष से सुव्यस्थित रूप से सामाजिक समरसता गतिविधि का कार्य चल रहा है। देश में प्रत्येक खण्ड स्तर पर महिला एवं पुरुषों की एक टोली इसका प्रयास कर रही है।