कमलनाथ के इस्तीफे पर बोले सिंधिया जनता की जीत हुई
   दिनांक 20-मार्च-2020
मध्यप्रदेश की राजनीति पिछले कई दिनों से गरमाई हुई थी, लेकिन अब राज्य के सीएम कमलनाथ ने अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। शाम पांच बजे उन्होंने राज्यपाल को इस्तीफा भी सौंप दिया

kamal nath _1   
पिछले काफी दिनों से मध्यप्रदेश की राजनीति को लेकर चर्चाएं तेज थी। पिछले कुछ दिन राज्य में उथल-पुथल के बाद मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा था, जहां शुक्रवार शाम को कमलनाथ सरकार का फ्लोर टेस्ट होना था। हालांकि, उससे पहले ही कमलनाथ ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करते हुए अपने इस्तीफा देने का एलान कर डाला। जहां फिर कुछ देर में कमलनाथ राज भवन पहुंचे और उन्होंने राज्यपाल लालजी टंडन को अपना इस्तीफा सौंपे दिया। उधर कमलनाथ के इस्तीफे के एलान के साथ ही कांग्रेस छोड़ भाजपा में शामिल हुए ज्योतिरादित्य सिंधिया ने भी उनपर हमला बोला।
भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ट्वीट करते हुए कहा कि MP में जनता की जीत अब हुई है। उन्होंने लिखा, 'मध्य प्रदेश में आज जनता की जीत हुई है। मेरा सदैव ये मानना रहा है कि राजनीति जनसेवा का माध्यम होना चाहिए, लेकिन प्रदेश सरकार इस रास्ते से भटक गई थी। सच्चाई की फिर विजय हुई है। सत्यमेवजयते।'
मध्य प्रदेश कांग्रेस विधायक दल की बैठक के बाद कमलनाथ लगभग 12 बजे प्रेस कॉन्फ्रेंस करने पहुंचे थे। संबोधित करते हुए उन्होंने भाजपा पर निशाना साधा और कहा कि उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता ने मुझे पांच साल सरकार चलाने का बहुमत दिया था। भाजपा ने प्रदेश की जनता के साथ धोखा किया। जनता उन्हें माफ नहीं करेगी।