अपोलो अस्पताल ने बताया कोरोना की जांच का आसान तरीका
   दिनांक 23-मार्च-2020
निशि भाट


corona _1  H x
आप सांस संबंधी किसी तकलीफ से परेशान हैं या नहीं या फिर आपको कोरोना हो सकता है या नहीं, संक्रमण से संबंधित कई तरह के प्रश्न दिमाग में आते हैं। इन सभी का जवाब पाने के लिए चिकित्सक के पास जाने की जगह घर बैठे ही प्राप्त किया जा सकता है। अपोलो ने प्रारंभिक स्तर की सांस संबंधी परेशानी का पता लगाने के लिए मोबाइल स्क्रीनिंग स्वत: जांच सुविधा लॉन्च की है।
 
इस लिंक पर क्लिक करके आप जानकारी ले सकते हैं
 विश्व स्वास्थ्य संगठन और भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी कोरोना वायरस की जांच संबंधी गाइडलाइन के आधार पर सेल्फ असेसमेंट या स्वत: जांच रिस्क स्कैन तैयार किया गया है। जिसमें मोबाइल के माध्यम से भेजे गए एक मैसेज में आपको लिंक पर क्लिक करना होगा, लिंक पर क्लिक करते ही आपकी उम्र पूछी जाएगी, इसके बाद सांस लेने में तकलीफ, सूखी खांसी है या नहीं, अगर है तो कितने दिनों से, कोई यात्रा कहीं की, कितने समय से पहले की आदि दस प्रश्नों के आधार पर आपका रिस्क स्कैन तैयार किया जाएगा। बताए गए मानक के आधार पर यदि फेफड़ों की स्थिति सही नहीं पाई गई तो आप लिंक पर ही दिए अपोलो अस्पताल के चिकित्सकों से हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर बात कर सकते हैं। कुल 24 संबंधित प्रश्नों के आधार पर आपका रिस्क मीटर तैयार किया जाएगा। घर बैठे कोरोना की जांच का यह बेहतर और सरल तरीका है जिससे संक्रमण संबंधी सभी भ्रम दूर किए जा सकते हैं।