मध्यप्रदेश: उज्जैन में सीएए को लेकर धरना देने वाली राबिया की कोरोना से मौत
   दिनांक 26-मार्च-2020

mp women corona _1 & 
उज्जैन में नागरिकता संशोधन कानून के विरोध- प्रदर्शन में शामिल होने वाली राबिया की कोरोना से मौत हो गई. इस प्रकरण के सामने आने पर कोरोना संक्रमण को लेकर लोग डरे हुए हैं.  मध्यप्रदेश में कोरोना के चलते होने वाली यह पहली मौत है.
सीएए का विरोध करने वाली मुस्लिम महिलाओं से अनेकों बार अपील की गई थी मगर जब संकट सर पर मंडराने लगा तब जाकर किसी तरह से इन लोगों ने धरना स्थल से टेंट और दरी हटाई. और अब अंत में वही हुआ जिसका डर था. इसके लिए इन लोगों को बार-बार समझाया भी गया था. सीएए के खिलाफ धरने में शामिल हुई उज्जैन की 65 वर्षीय राबिया को कोरोना पॉजिटिव पाया गया था. इलाज के लिए उन्हें इंदौर में भर्ती कराया गया था. इलाज के दौरान उनकी बृहस्पतिवार को मौत हो गई. अब आशंका जताई जा रही है कि धरने के दौरान राबिया के आस-पास जितनी महिलाएं संपर्क में थीं. वो महिलाएं भी संक्रमित हो सकती हैं.
उल्लेखनीय है कि उज्जैन जनपद के बेगम बाग़ इलाके में सीएए के खिलाफ कुछ दिन पहले तक धरना- प्रदर्शन किया जा रहा था. इस धरने में राबिया भी शामिल थीं. कुछ दिन पहले स्वास्थ्य खराब होने पर राबिया को अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जांच के दौरान राबिया को कोरोना संक्रमित पाया गया था. कोरोना से मृत्यु के बाद जिला प्रशासन ने धरना स्थल को पूरी तरह से सील कर दिया है. राबिया की मृत्यु के बाद आस-पास के इलाके में दहशत का माहौल है. इस क्षेत्र के लोग अपने-अपने घरों के अन्दर रह कर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कर रहे हैं .अब उन लोगों के बारे में पता लगाया जा रहा है जो लोग धरने में शामिल हुए थे. ऐसे लोगों की पहचान करने के लिए स्वास्थ्य विभाग की टीम घर - घर जा रही है. धरने में शामिल होने वाले लोगों की पहचान हो जाने के बाद उन्हें एकांतवास में रखा जा सकता है.