उत्तर प्रदेश सरकार के खिलाफ अफवाह फ़ैलाने के आरोप में राघव चड्ढा के खिलाफ एफआईआर
   दिनांक 29-मार्च-2020

raghav _1  H x  
आम आदमी पार्टी के विधायक राघव चढ्ढा द्वारा ट्वीट करके फैलाई गई. इस मामले में उत्तर प्रदेश में उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. राघव चड्ढा ने पहले ट्वीट करके आधारहीन आरोप लगाया . बाद में जब उन्होंने देखा कि यह मामला तूल पकड़ रहा है. तब उन्होंने उस ट्वीट को डीलीट कर दिया. मगर ऐसा करके भी वो उत्तर प्रदेश सरकार की कानूनी कार्रवाई से बच नहीं पाए.
राघव राघव चड्ढा ने ट्वीट में लिखा था कि " सूत्रों के मुताबिक़ योगी जी दिल्ली से यूपी जाने वाले लोगों को दौड़ा-दौड़ा के पिटवा रहे हैं. योगी जी बोल रहे हैं कि तुम क्यों दिल्ली गए थे ?"
राघव राघव चड्ढा द्वारा ट्वीट डिलीट करने के बाद उतर प्रदेश के मुख्यमंत्री के मीडिया सलाहकार मृत्युंजय कुमार ने ट्वीट करते हुए लिखा कि "डिलीट करने का कोई फ़ायदा नहीं है . तुम्हारी पार्टी की इस नीच हरकत का जवाब उत्तर प्रदेश पुलिस दे रही है. यह उन लोगों के लिए एक सबक़ बनेगा जो योगी सरकार के ख़िलाफ़ झूठ बोलकर निकल जाते है."