कोरोना संकट: हरियाणा में गांव वाले सजग
   दिनांक 31-मार्च-2020
डॉ गणेश दत्त वत्स

ladva _1  H x W
 
 गांव में बाहरी लोग न आए इसलिए पहरा देते लोग.
 
हरियाणा में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा देश में 21 दिन का लॉक डाउन करने के निर्णय को समाज पूरी सजगता से ले रहा है और हालात की गंभीरता को समझते हुए सहयोग करना अपना राष्ट्र धर्म मान रहा है ।प्रदेश के अनेक गांवों में ग्रामीण लोग ठीकरी पहरा लगाकर सामाजिक दूरी बनाने में अपना सहयोग कर रहे है ।ग्राम पंचायत के साथ-साथ अनेक सामाजिक संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के स्वयंसेवक पूर्ण सहयोग कर रहे हैं। जहां गांवों में प्रवेश पर पूरी पाबंदी लगी हुई है, वही गांव से बाहर जाने पर भी कोई कोताही नहीं की जा रही है ।गांव वासियों का कहना है कि यदि हम सब मिलकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आह्वान का पालन कर लेंगे तो घातक बीमारीके प्रकोप से बच जाएंगे, गांव ,शहर ,समाज ,देश सुरक्षित रहेगा । रमेश पवार, प्रवीण वत्स ,चौहान साहब, मेशा,ईश्वर ने कहा जब तक हमरोना वायरस को देश से नही भगाएंगे तब तक हम अपना सेवा कार्य जारी रखेंगे ।
हरियाणा में मुख्यमंत्री मनोहर लाल कि सरकार कोरोना वायरस के प्रति गंभीरता से कार्य कर रही है ।21 दिन के लॉक डाउन कीअवधि में सभी जरूरी कदम उठाने के लिए आदेश प्रशासन को दिए गए हैं ।इन्हीं आदेशों के अनुरूप ऐसी व्यवस्था की गई है जिससे लोगों को घर से बाहर न जाना पड़े आम जनजीवन की आसानी से उपलब्ध हो सके इसके साथ ही पलायन कर रहे लोगों के रहने खाने-पीने की व्यवस्था की है, जिससे किसी को कोई दिक्कत नहीं हो ।