अफवाह फैलाने के आरोप में सपा नेत्री पर एफआईआर
    दिनांक 01-अप्रैल-2020
 
richa singh _1  
कोरोना के संकट में काल में अफवाह फैलाने के आरोप में इलाहाबाद विश्वविद्यालय छात्र संघ की पूर्व अध्यक्ष ऋचा सिंह समेत चार लोगों के खिलाफ प्रयागराज जनपद के थाना कर्नलगंज में आईआर दर्ज की गई है. इन लोगों के खिलाफ धारा 144 के उल्लंघन एवं आई.टी अधिनियम के अंतर्गत कार्रवाई की गई है. आरोप है कि इन लोगों ने शनिवार की रात फेसबुक एवं अन्य सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर लिखा था कि रविवार सुबह 6 बजे आजमगढ़ एवं अन्य जनपदों के लिए सिविल लाइन्स बस अड्डे से बस मिलेगी. इन लोगों की पोस्ट को पढ़कर छात्र एवं अन्य लोग सिविल लाइन्स बस अड्डे पर एकत्र होने लगे. लॉकडाउन में अपने छात्रावासों में रह रहे छात्रों को लगा कि बस पर बैठ कर घर पहुंचा जाए. इसके चलते वे अंदर रहने के बजाए बाहर निकल आए.
पुलिस ने बताया कि ऋचा सिंह समाजवादी पार्टी के टिकट पर प्रयागराज जनपद के शहर पश्चिमी विधानसभा क्षेत्र से चुनाव लड़ भी चुकी हैं. इन लोगों ने फेसबुक पर पोस्ट लिखने के बाद उसे डिलीट कर दिया था. इन सभी के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है. इस मामले में ऋचा सिंह , नेहा , अदनान और अखिलेश को नामजद किया गया है.
बता दे कि ऋचा सिंह के खिलाफ कुछ माह पहले रंगदारी मांगने के मामले में भी एफआईआर दर्ज हुई थी. महिला छात्रावास में काम करने वाली फर्म कपूर कंस्ट्रक्शन कंपनी के संजय कपूर ने एफआईआर दर्ज कराई थी. ठेकेदार का आरोप था कि ऋचा , कमीशन के लिए दबाव बना रही थीं