जयपुर: लाॅकडाउन में घूम रहे मुसलमानों को टोका तो पुलिस पर धारदार हथियारों से हमला किया

    दिनांक 17-अप्रैल-2020
Total Views |
राघवेन्द्र सिंह
टोंक जिले में स्थित उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के इलाके में यह घटना हुई। जिस क्षेत्र में पुलिस पर हमला किया गया वह कसाई मोहल्ला है

jaipur _1  H x  
पंजाब, बिहार व उत्तरप्रदेश के बाद अब राजस्थान में भी कोरोना वाॅरियर्स पर हमले का मामला सामने आया है। यहां टोंक जिला मुख्यालय पर मुस्लिम बहुल कसाई मोहल्ले में गश्त के दौरान 60-70 मुसलमानों की भीड़ ने पुलिस के जवानों पर जमकर पथराव किया। हमले में तीन पुलिस कांस्टेबल घायल हो गए। इससे पूर्व अजमेर शहर के चिश्ती नगर इलाके में भी सर्वे करने गई मेडिकल टीम से मुस्लिमों द्वारा अभद्रता करने का मामला सामने आ चुका है।
टोंक शहर के मोहल्ला बावड़ी इलाके में शुक्रवार सुबह पुलिस के जवान गश्त कर घरों के बाहर घूम रहे लोगों को घरों में रहने की अपील कर रहे थे। इस दौरान कुछ युवकों को पुलिस के जवान जब पकड़ कर थाने ने जाने लगे तो मुसलमानों की भीड़ ने धारदार हथियार, सरिए, पत्थरों और लाठियों से पुलिसकर्मियों पर हमला कर दिया। हमले में पुलिस कांस्टेबल राजेन्द्र, भागचंद व रामराज गंभीर रूप से घायल हो गए तथा दो अन्य पुलिसकर्मियों को भी चोट आई हैं। हमले की सूचना मिलते ही पुलिस के आलाधिकारी मौके पर पहुंचे और घायल जवानों को अस्पताल पहुंचाया। जहां उनका उपचार करवाया चल रहा है।
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विपिन शर्मा ने मीडिया को बताया कि पुलिस गश्त कर रही थी, जिस दौरान बावड़ी मोहल्ला में कसाईयों की गली में पुलिस पर हमला किया गया है। एएसपी ने बताया कि गश्त के समय इलाके में कर्फ्यू होने के बावजूद आवागमन हो रहा था। जिस दौरान ही लोगों ने पुलिस गश्ती दल पर हमला हुआ है। पुलिस थाना कोतवाली टोंक में मामला दर्ज कर 12 लोगों को हिरासत में लिया है। बता दें कि टोंक में कोरोना संक्रमण के दर्जनों मामले सामने आने के बाद शहर में कर्फयू लगाया गया है। जहां दो दिन पूर्व ही स्थानीय विधायक व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने दौरा करके कोरोना की रोकथाम के हरसंभव प्रयास करने के निर्देश दिए थे।
इससे पूर्व अजमेर शहर के चिश्तीनगर इलाके में सर्वे करने पहुंची मेडिकल टीम के के साथ बदसलूकी करने के मामले में पुलिस ने आरोपी अब्दुल लतीफ, अब्दुल मजीद, वसीम अहमद, जुबैर अहमद, तैयब उर्फ अयान, मोहम्मद रफीक और वकील अहमद को गिरफ्तार किया था।