भूख से साधु की मृत्यु की झूठी खबर चलाई, पोर्टल संचालक सुफैल के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज

    दिनांक 01-मई-2020   
Total Views |
अयोध्या में साधु की स्वाभाविक मृत्यु पर एक पोर्टल संचालक सुफैल ने खबर चलाई की उनकी मौत की वजह भूख है। जबकि यह सरासर झूठी खबर थी।

a_1  H x W: 0 x
फेक न्यूज़ की फैक्ट्री चलाने वाले अपनी हरकतों से बाज आने को तैयार नहीं हैं। अयोध्या में हुई एक साधु की स्वाभाविक मृत्यु पर भी फेक न्यूज़ चलाई गई। साधु के अंतिम संस्कार की फोटो लगा कर यह खबर चलाई गई कि अयोध्या में भूख से साधु की मृत्यु हो गई। जब इस बात की हकीकत सामने आनी शुरू हुई तो फेक न्यूज़ चलाने एवं समाज में भ्रम फैलाने के आरोप में वेबसाइट के संचालक सुफैल अहमद एवं उसके रिपोर्टर के खिलाफ अयोध्या जनपद के कोतवाली थाने में एफआईआर दर्ज की गई है।
बता दें कि सुफैल अहमद ने अपने समाचार पोर्टल पर यह भ्रामक खबर चलाई कि भोजन न मिलने के कारण साधु विष्णुदास की मौत हो गई। इस भ्रामक खबर का लिंक व्हाट्स-ऐप ग्रुप और फेसबुक पर भी वायरल किया गया। इस झूठी खबर से आहत सुखदेव गिरी ने तहरीर दी कि “29 अप्रैल को सुबह दस बजे के करीब 80 वर्षीय साधु विष्णुदास की स्वाभाविक मृत्यु हो गई।

a_1  H x W: 0 x 
 
रीति-रिवाज से उनका अंतिम संस्कार किया गया। रही बात भोजन की तो हम लोगों के यहां दिन भर में कई बार भोजन दिया जाता है। ऐसे में यह कहना पूरी तरह निराधार है कि भोजन के अभाव में साधु विष्णुदास जी की मृत्यु हुई है। यह संज्ञान में आया है कि समाचार पोर्टल के संचालक सुफैल अहमद एवं रिपोर्टर ने भ्रामक खबर चलाकर साधु समाज को अपमानित करने का प्रयास किया है। ऐसे में इन लोगों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।
 
उल्लेखनीय है कि अयोध्या पुलिस ने सुखदेव गिरी की तहरीर पर प्राथमिकी दर्ज कर ऐसे सभी लोगों को आगाह किया है कि कोई भी भ्रामक और फेक न्यूज़ न चलाए अन्यथा विधिक कार्रवाई की जायेगी।