उद्यमियों को 2 हजार करोड़ कर्ज वितरित करने वाला पहला राज्य बना यूपी

    दिनांक 14-मई-2020
Total Views |
केंद्र सरकार की घोषणा के मात्र 24 घंटे के अन्दर करीब 56 हजार 754 उद्यमियों को दो हजार करोड़ रुपये से अधिक का कर्ज वितरित करने वाला उत्तर प्रदेश पहला राज्य बन गया

yogi _1  H x W:
केंद्र से आर्थिक पैकेज की घोषणा के 24 घंटे के भीतर ही मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोन मेले के जरिए एमएसएमई सेक्टर में नई जान फूंक दी. इस सेक्टर को ताकतवर बनाने के लिए’ एक जिला -एक उत्पाद’ (ओडीओपी) के माध्यम से इसकी तैयारी पहले से ही चल रही थी. केंद्र सरकार की घोषणा के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बिना विलम्ब किये इस सेक्टर को रोजगार परक बनाने की दिशा में बड़ा कदम उठाया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने ऑनलाइन लोन मेले का आयोजन कर के करीब 56 हजार 754 उद्यमियों को दो हजार करोड़ रुपये से अधिक के कर्ज वितरित किए. एक अनुमान के अनुसार इस लोन मेले में दिए गए कर्ज से दो लाख से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा.
इस मौके पर मुख्यमंत्री ने एमएसएमई का एक पोर्टल भी लांच किया. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि “ हमारे कामगार और श्रमिक हमारी ताकत और पूंजी हैं. हम इनके श्रम और हुनर का हर संभव उपयोग कर उत्तर प्रदेश को देश और दुनिया का मैन्यूफैक्चरिंग हब बनाएंगे. उत्तर प्रदेश के माथे पर पलायन का जो कलंक है. उसे मिटाने के लिए हमारे पास यह बेहतरीन मौका है. दूसरे प्रदेश से आने वाले श्रमिकों की दक्षता का रिकार्ड तैयार किया जा रहा है. आगे दीपावली का पर्व है. इस दौरान पूरे देश में चीन से आने वाली गौरी-गणेश की मूर्तियां बड़े पैमाने पर बिकती हैं. हमारी कोशिश रहे कि इस बार स्थानीय इकाईयां उसका विकल्प दें. टेराकोटा के सामान बनाने वाले गोरखपुर के उद्यमियों में यह हुनर है. वह चीन से भी बेहतर गुणवत्ता की मूर्तियां बना सकते हैं. इसके लिए उनकी हर संभव मदद की जाए. उत्तर प्रदेश का एमएसएमई सेक्टर भारत में सबसे बड़ा है. इस सेक्टर में कई ऐसी ईकाइयों के उत्पाद हैं जिनकी पूरे देश और दुनिया में मांग हैं.