क्या कार और बाइकों से श्रमिकों को उनके घर पहुंचाएगी कांग्रेस ?

    दिनांक 19-मई-2020
Total Views |
 
collage priyanka _1 
मजदूरों और श्रमिकों को उनके घर पहुंचाने के लिए 1000 बसों के संचालन की अनुमति मांगने का कांग्रेस का यह दावा भी हवा—हवाई साबित होता नजर आ रहा है। कोरोना महामारी के दौरान किसी तरह चर्चा में बने रहने के लिए कांग्रेस लगातार कोशिश कर रही है। इसी क्रम में प्रियंका वाड्रा ने श्रमिकों के लिए 1000 बसों के संचालन के लिए उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार से अनुमति मांगी थी। इसकी उन्हें अनुमति मिल भी गई लेकिन कांग्रेस की तरफ से भेजी गई 1000 बसों की लिस्ट में कई नंबर मोटरसाइकिल, थ्री व्हीलर और कार के निकल रहे हैं।
सोशल मीडिया पर वायरल लिस्ट में शामिल आरजे 14 टीडी 1446 को 'शेवरले बीट' कार का बताया जा रहा है। ऐसे ही एक नंबर यूपी 83 टी 1106 के मालिक का नाम इरशाद और वाहन थ्री व्हीलर बता रहा है। यही नहीं एक और नंबर यूपी 85 टी 65 76 प्लेटिना बाइक मालिक जितेंद्र कुमार बताया जा रहा है। सोशल मीडिया में कांग्रेस की ओर से भेजी गई बसों की यह लिस्ट वायरल हो गई है।
उत्तर प्रदेश सरकार के लघु उद्योग मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह ने प्रियंका गांधी के निजी सचिव द्वारा भेजी लिस्ट सही नहीं होने की बात कही है। उन्होंने कहा कि इसमें कई वाहनों के नंबर और डिटेल गलत है और बसों के बजाय अन्य वाहनों के नंबर हैं।सिद्धार्थनाथ सिंह ने लखनऊ में इस बारे में जानकारी देते हुए प्राथमिक आधार पर उपलब्ध वाहनों की सूची के बारे में बताते हुए कहा कि कांग्रेस इस मौके पर भी अपनी नीयत से बाज नहीं आई और दी गई लिस्ट में कार, ट्रैक्टर, एंबुलेंस और स्कूटर जैसे वाहनों के नंबर हैं।
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मीडिया सलाहकार शलभ मणि त्रिपाठी ने कहा है कि यह तो महाघोटाला है। प्रियंका वाड्रा की बसों की सूची में ज्यादातर नंबर आटो रिक्शा, कार और एंबुलेंस के निकले हैं। कोरोना आपदा के वक्त जब पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ मेहनत से लोगों की मदद में जुटे हैं तब प्रियंका गांधी वाड्रा और उनके साथी लोगों गुमराह करने और अराजकता फैलाने में जुटे हैं।