हिन्दू युवक ने रक्तदान कर मुस्लिम महिला की बचाई जान लेकिन सेकुलर मीडिया यह नहीं दिखाएगा

    दिनांक 04-मई-2020   
Total Views |
पिछले दिनों मुरादाबाद जिले में एक मुस्लिम महिला को जब खून चढ़ाने की आवश्यकता पड़ी तब रोजा रह रहे उसके परिजन रक्त दान नहीं कर पाए। ऐसे में एक हिन्दू युवक ने उस मुस्लिम महिला को खून देकर उसकी जान बचाई।

a_1  H x W: 0 x 
 
पिछले दिनों मुरादाबाद जिले में एक मुस्लिम महिला को जब खून चढ़ाने की आवश्यकता पड़ी तब रोजा रह रहे उसके परिजन रक्त दान नहीं कर पाए। ऐसे में एक हिन्दू युवक ने उस मुस्लिम महिला को खून देकर उसकी जान बचाई। गौरतलब है कि मुरादाबाद के भगतपुर कस्बे में मुहम्मद अहमद की पत्नी राबिया का स्वास्थ्य खराब चल रहा था। 3 मई को उनकी तबियत ज्यादा बिगड़ने लगी। इसे देखकर परिजनों ने एक निजी अस्पताल में उन्हें भर्ती कराया। वहां पर डाक्टरों ने बताया कि तत्काल खून चढ़ाना पड़ेगा। राबिया के परिवार के लोग रोजा थे। खाली पेट होने की वजह से डॉक्टर ने उन लोगों का खून निकालने से मना कर दिया। इसके बाद राबिया के परिवार वालों ने सोशल मीडिया पर मदद मांगी। सोशल मीडिया के माध्यम से सूचना मिलने के बाद उसी कस्बे के रोहित सक्सेना अस्पताल की तरफ चल पड़े। अस्पताल पहुंच कर रोहित ने रक्तदान किया और राबिया की जान बचाई।