मुसलमानों ने दलित बस्तियों में घुसकर घरों में आग लगा दी

    दिनांक 11-जून-2020
Total Views |
उत्तरप्रदेश जौनपुर जनपद में आम तोड़ने को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि मुस्लिम पक्ष के लोगों ने दलित बिरादरी के लोगों के घर में घुसकर मारपीट की और उनके घरों में आग लगा दी .  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एवं राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई के आदेश दिए हैं. 
 
a_1  H x W: 0 x


उत्तरप्रदेश जौनपुर जनपद में आम तोड़ने को लेकर विवाद इतना बढ़ गया कि मुस्लिम पक्ष के लोगों ने दलित बिरादरी के लोगों के घर में घुसकर मारपीट की और उनके घरों में आग लगा दिया. इस घटना का मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संज्ञान लिया है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मुख्य आरोपी नूर आलम एवं जावेद सिद्दीकी समेत सभी आरोपियों के खिलाफ गैंगस्टर एवं राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई के आदेश दिए हैं. जिन पीड़ितों के घरों को जलाया गया है. उनको मुख्यमंत्री आवास योजना के अंतर्गत घर दिए जायेंगे. उनकी आर्थिक सहायता करने के  भी आदेश दिए गए हैं.

 

थाना सराय ख्वाजा क्षेत्र के भदेठी गावं में करीब तेरह वर्षीय बालक शाहबाज़ आम की  बाग में  आम तोड रहा था. बाग़ के निकट ही एक तालाब है जहां पर दलित बिरादरी के कुछ बच्चे अपनी बकरियां चरा रहे थे. किसी बात को लेकर विवाद हो गया. शाहबाज़ ने अपने घर जाकर विवाद की सूचना दी. शाहबाज़ के घर वालों ने आकर दलित बस्ती में मारपीट की. मगर इस मारपीट में मुस्लिम पक्ष के चार युवक मामूली रूप से घायल हो गए. इसके बाद गांव के कुछ लोगों ने बीच – बचाव करके  दोनों पक्षों में समझौता करा दिया.

a_1  H x W: 0 x


बताया जाता है कि बीती रात करीब साढ़े नौ  बजे मुस्लिम पक्ष के लोगों ने लाठी – डंडों से लैस होकर  दलित बस्ती में हमला कर दिया. इस हमले में रवि, अतुल, पवन, आदि कई लोग घायल हो गए. कई दलित बिरादरी के लोगों के कच्चे मकानों को आग के हवाले कर दिया गया. वाहनों को भी नुकसान पहुंचाया गया. आगजनी में बकरियां भी जलकर मर गईं.


घटना के बाद गावं में कई थाने की फ़ोर्स तैनात की गई है. घायलों को इलाज के लिए जिला अस्पताल भिजवाया गया है. जौनपुर जनपद के जिलाधिकारी दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि पीड़ित परिवारों की आर्थिक सहायता के साथ – साथ सुरक्षा के भी इंतजाम कराए गए हैं. जौनपुर जनपद के पुलिस अधीक्षक अशोक कुमार सिंह का कहना है कि इस मामले में थाना प्रभारी की भूमिका की जांच की जा रही है. दोषी पाए जाने पर थाना प्रभारी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.