भारत बना संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य

    दिनांक 18-जून-2020   
Total Views |

भारत 8वीं बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य चुना गया है। भारत को 192 वोटों में से 184 वोट मिले हैं। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस त्रिमूर्ति ने टृवीट कर इस बात की जानकारी दी।

j_1  H x W: 0 x

भारत 8वीं बार संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थाई सदस्य चुना गया है। भारत को 192 वोटों में से 184 वोट मिले हैं। संयुक्त राष्ट्र में भारत के स्थायी प्रतिनिधि टीएस त्रिमूर्ति ने टृवीट कर इस बात की जानकारी दी। उन्होंने लिखा कि सदस्य देशों ने भारत को भारी समर्थन देते हुये 2021-22 तक के लिए यूएनएससी का अस्थाई सदस्य चुना है। भारत को 192 में से 184 वोट मिले हैं।
 

उल्लेखनीय है कि भारत पहली बार 1950 में अस्थायी सदस्य के रूप में चुना गया था और अब आठवीं बार चुना गया है। इससे पहले भारत सात बार- 1950-1951, 1967-1968, 1972-1973, 1977-1978, 1984-1985, 1991-1992 और 2011-2012 में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद का अस्थायी सदस्य रह चुका है। भारत 2021-22 के कार्यकाल के लिए एशिया-प्रशांत श्रेणी से गैर-स्थायी सीट के लिए एकमात्र उम्मीदवार था। अब भारत फिर से यूएनएससी में 2021-22 कार्यकाल के लिए एशिया-प्रशांत श्रेणी से अस्थायी सदस्य रहेगा। बीते 17 जून को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2021 से 2022 तक सुरक्षा परिषद के गैर-स्थायी सदस्यों के रूप में भारत समेत आयरलैंड, मैक्सिको और नॉर्वे को चुना है। कनाडा सुरक्षा परिषद में अस्थायी सदस्य बनने में विफल रहा। चुने गये सभी देशों का कार्यकाल 1 जनवरी 2021 से शुरू होगा।