उन्नाव जनपद से प्रेरित होकर पीएम मोदी ने लांच की 50 हजार करोड़ की योजना

    दिनांक 22-जून-2020   
Total Views |
 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते शनिवार को 50 हजार करोड़ रुपये की ‘गरीब कल्याण रोजगार’  योजना लांच की. योजना की घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बताया, “ इस योजना की प्रेरणा उन्हें उत्तर प्रदेश के उन्नाव जनपद से मिली थी.”

a_1  H x W: 0 x


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बीते शनिवार को 50 हजार करोड़ रुपये की  ‘गरीब कल्याण रोजगार’  योजना लांच की. योजना की घोषणा करते हुए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बताया, “ इस योजना की प्रेरणा उन्हें उत्तर प्रदेश के उन्नाव जनपद से मिली थी.” लॉकडाउन के दौरान दूसरे प्रदेशों से आए श्रमिकों और कामगारों को उन्नाव के एक सरकारी स्कूल में क्वारंटाइन किया गया था. इन श्रमिकों में से अधिकांश हैदराबाद से लौटे थे. हैदराबाद से आये श्रमिक रंग-रोगन और प्लास्टर ऑफ पेरिस (पीओपी) का काम जानते थे. क्वारंटीन किये गये श्रमिकों के लिए प्रशासन ने भोजन और नाश्ते की व्यवस्था की थी.  इस बीच रंगाई—पुताई करने वाले श्रमिकों ने सोचा कि एकांतवास के दौरान कुछ काम किया जाय. इन सभी श्रमिकों ने मिलकर उस स्कूल का कायाकल्प कर दिया जिसमें उन्हें क्वारंटाइन किया गया था.


a_1  H x W: 0 x

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा, “ मीडिया के जरिए जब मुझे यह खबर मिली तो मैं अपने श्रमिक एवं कामगार भाइयों के हुनर और देश भक्ति का कायल हो गया. मुझे लगा कि ये लोग देश और समाज के लिए कुछ करने का जज्बा रखते हैं. इन्हीं लोगों से मुझे ‘गरीब कल्याण रोजगार’ अभियान शुरू करने की प्रेरणा मिली. ज़रा सोचिये, कितना टैलेंट इन दिनों अपने गांव लौटा है. देश के हर शहर को गति और प्रगति देने वाला यह वर्ग जब ग्रामीण इलाकों में लगेगा तो संबंधित राज्य के विकास को भी गति मिलेगी.


उत्तर प्रदेश सहित छह प्रदेशों के 116 जिलों में लागू होगी ये योजना

a_1  H x W: 0 x

 यह योजना बिहार, उत्तर प्रदेश, झारखंड, ओडिशा, मध्य प्रदेश और राजस्थान के 116 जिलों में चलेगी. यह वही राज्य हैं जिनमें लॉकडाउन के कारण सर्वाधिक श्रमिकों की घर वापसी हुई. इससे हुनरमंद श्रमिकों को स्थानीय स्तर पर उनकी दक्षता के अनुसार काम मिलेगा.