पाकिस्तान में फूटा सेक्स स्कैंडल बम, जद में आए इमरान, गिलानी, रहमान मलिक सहित कई बड़े नेता

    दिनांक 08-जून-2020   
Total Views |
कोरोना और टिड्डियों के हमले के बाद अब पाकिस्तान में सेक्स स्कैंडल को लेकर बड़ा विस्फोट हुआ है, जिसे लेकर हर तरफ खलबली मची हुई है। अमेरिकी पत्रकार सिंथिया रिची ने पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के वरिष्ठ नेता और बेनजीर भुट्टो के किचन कैबिनेट के सदस्य रहमान मलिक सहित कई नेताओं पर बलात्कार तथा हमले जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं।
m_1  H x W: 0 x

कोरोना और टिड्डियों के हमले के बाद अब पाकिस्तान में सेक्स स्कैंडल को लेकर बड़ा विस्फोट हुआ है, जिसे लेकर हर तरफ खलबली मची हुई है। इस विवाद के कुछ छींटे प्रधानमंत्री इमरान खान पर भी पड़े हैं। कहा जा रहा है कि उन्होंने अमेरिकी पत्रकार सिंथिया रिची से जिस्मानी संपर्क बनाने की कोशिश की थी, जिसे ठुकरा दिया गया। उक्त पत्रकार ने ही पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के वरिष्ठ नेता और बेनजीर भुट्टो के किचन कैबिनेट के सदस्य रहमान मलिक सहित कई नेताओं पर बलात्कार तथा हमले जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं।
 
सिंथिया रिची ने अपने आरोपों का एक पूरा वीडियो ट्वीटर पर डाला है। उनकी मानें तो 2011 में जब वह इस्लामाबाद के मंत्रियों के एनक्लेव स्थिति रहमान मलिक के घर गईं, तब वह जबरन उनसे हमबिस्तर हुए। इससे पहले तत्कालीन केंद्रीय मंत्री मखदूम शहाबुद्दीन और पूर्व प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी ने उन्हें नशीला पेय पिलाकर बेहोश कर दिया। सिंथिया कहती हैं कि यह घटना उन दिनों की है जब अमेरिका के सील कमांडो ने पाकिस्तान में घुसकर आतंकवादी अलकायदा के मुखिया ओसामा बिन लादेन को मार गिराया था।
 
m_1  H x W: 0 x

इस विवाद में घी डालते हुए भारत के रियलिटी शो बिग बॉस में काम कर चुकी पाकिस्तानी टीवी एंकर बेगम नवाजिश अली ने एक इंटरव्यू में रहस्योद्घाटन किया है कि मौजूदा प्रधानमंत्री इमरान खान ने भी सिंथिया रिची से शारीरिक संबंध बनाने की कोशिश की थी। इसके लिए उन्होंने उसे प्रपोज किया, पर सिंथिया ने उनके आमंत्रण को ठुकरा दिया था। उस समय इमरान खान अपनी पाकिस्तान तहरी-ए-इंसाफ पार्टी को आगे बढ़ाने के लिए संघर्षरत थे।
 
इस समय अमेरिका में रह रही बेगम नवाजिश अली का कहना है कि इमरान खान वाली बात सिंथिया ने उन्हें खुद बताई थी। तब वह उनके साथ पाकिस्तान में ही रहती थी। उन्होंने दावा किया है तब सिंथिया ने रहमान मलिक के बलात्कार वाली बात उन्हें नहीं बताई थी। शायद उनके सियासी रसूख के चलते सिंथिया डर गई थीं। सिंथिया ने बेनजीर भुट्टो और उनके पति तथा पूर्व राष्ट्रपति आसिफ जरदारी को लेकर भी सोशल मीडिया पर कई आपत्तिजनक टिप्पणियां की हैं। सिंथिया के ट्वीटर पर 220,000 से अधिक फॉलोवर्स हैं, जो उनके इस तरह के ट्वीट के प्रति खूब दिलचस्पी दिखा रहे हैं। शुक्रवार-शनिवार को यह टॉप ट्रेंड में रहा।

सिंथिया के आरोपों के बाद से पाकिस्तासन की राजनीति में भूचाल आया हुआ है। पूर्व प्रधानमंत्री रजा गिलानी ने तमाम आरोपों का खंडन करते हुए कहा है कि अमेरिकी पत्रकार के खिलाफ वह मानहानि का मुकदमा दर्ज कराएंगे। पीपीपी नेताओं ने इस पूरे प्रकरण की जांच की मांग की है। पीपीपी के इस्लामाबाद के जिलाध्यक्ष एडवोकेट शकील अब्बासी ने इसके लिए केंद्रीय जांच एजेंसी (एफआईए) की साइबर क्राइम विंग को एक अर्जी भी डाली है। गिलानी के बेटे अली हैदर गिलानी ने अपने पिता का बचाव करते हुए सवाल उठाए हैं कि रिची को आठ साल बाद यह संगीन आरोप लगाने की याद कैसे आई ? क्या वह पाकिस्तान के हमारे नेताओं को बदनाम करने की साजिश रचने आई थीं ? इन सवालों की भी जांच होनी चाहिए। दूसरी तरफ इमरान खान के मुददे पर उनकी पार्टी की ओर से अब तक कोई प्रतिक्रिया नहीं आई है।
  
m_1  H x W: 0 x
तमाम हंगामों के बीच सिंथिया रिची आज भी अपने बयान पर कायम हैं। रहमान मलिक के बलात्कार मुददे पर अब तक खामोश रहने को लेकर उठाए जा रहे सवालों के जवाब में कहा है कि वह पाकिस्तान के एक मुददे पर खोजी रिपोर्ट तैयार करने के सिलसिले में 2009 से 2011 के बीच कई बार आती-जाती रहीं। इसी दौरान वह पीपीपी नेताओं के संपर्क में गईं। तब 
आसिफ अली जरदारी राष्ट्रपति, गिलानी प्रधानमंत्री, रहमान मलिक आंतरिक मामलों के मंत्री और मखदूम शहाबुद्दीन केंद्रीय मंत्री थे। सिंथिया का कहना है कि अपने बलात्कार की सूचना उन्होंने अमेरिकी दूतावास को भी दी थी। मगर अमेरिकी सील कमॉडों द्वारा ओसामा बिन लादेन को मार गिराए जाने के बाद अमेरिका-पाकिस्तान के संबंध खराब हो जाने के कारण उनकी शिकायत पर ध्यान नहीं दिया गया।

m_1  H x W: 0 x

 उन्होंने आरोप लगाया कि इस रहोस्योद्घाटन के बाद से पाकिस्तान के कुछ बड़े नेताओं की ओर से उन्हें जान से मारने और बलात्कार की धमकियां मिल रही हैं। वे नहीं चाहते कि यह मामला आगे बढ़े। सिंथिया ने अपने एक अन्य ट्वीट में कहा है कि बलात्कार वाले दिन रहमान मलिक के घर पर पीपीपी के उक्त दो मंत्रियों को देखकर तब उन्हें लगा था कि उनके वीजा विस्तार को लेकर कोई मिटिंग होने वाली है। घटना के बाद उन्हें लगा कि यदि अभी उन्होंने कुछ भी कहा तो लोग यकीन नहीं करेंगे और न ही उन्हें कोई मदद मिलेगी, इसलिए तब खामोश रहीं।

m_1  H x W: 0 x

अपने वीडियो में, सिंथिया रिची ने आरोप लगाया कि उस घटना के बाद भी उन्हें कई बार पीपीपी नेताओं का उत्पीड़न सहना पड़ा। उनके मुताबिक, पीपीपी नेताओं के संपर्क में आने के बाद शुरूआती दिन पाकिस्तान में बड़े मजे से गुजरे, पर बाद में स्थिति बदलती चली गई। वह पीटीआई नेताओं के संपर्क में आना चाहती थीं, पर उन्हें इससे दूर रखा गया। आज भी उनके विरूद्ध साजिश रची जा रही है। उनकी बहनों को फोन कर उनके बारे में व्यक्तिगत जानकारियां इकट्ठी की जा रही हैं।