लो जी मस्जिद को सेनिटाइज करना भी हराम है

    दिनांक 08-जून-2020   
Total Views |
विश्व की सभी मस्जिदों में सेनिटाइजेशन कराया जा रहा है . यहां तक कि सउदी अरब में भी मस्जिदों में सेनिटाइजर का छिड़काव हो रहा है. मगर उत्तर प्रदेश के बरेली जनपद में उलेमाओं को सेनिटाइजर से दिक्कत है. बरेली के उलेमाओं का कहना है कि सेनिटाइजर में एल्कोहल मिला है और एल्कोहल , इस्लाम में हराम है

jama _1  H x W:
पोलियो को लेकर इस्लाम मज़हब के लोगों में यह अफ़वाह जड़ जमा चुकी थी कि पोलियो ड्राप पिलाने से उनके बच्चों की प्रजनन क्षमता समाप्त हो जायेगी. स्वास्थ्य विभाग की टीम पर जो हमले किये गए थे. वो सभी को मालूम हैं. अब वैश्विक महामारी कोरोना की रोक थाम में भी इस्लाम मजहब आड़े आ गया है. इस बार का कारण यह है कि इस्लाम में एल्कोहल हराम है और सेनिटाइजर में 50 फीसदी से अधिक मात्रा एल्कोहल की रहती है. बरेली जनपद के उलेमाओं ने कहा है कि वो लोग सेनिटाइजर का छिड़काव करा कर मस्जिद को नापाक नहीं होने देंगे.
सउदी अरब समेत विश्व की सभी मस्जिदों में सेनिटाइजेशन कराया जा रहा है मगर उत्तर प्रदेश के बरेली जनपद में उलेमाओं को सेनिटाइजर से दिक्कत है. मुफ्ती सैय्यद कफील अहमद हाशमी ने कहा है कि " नमाज को पाक होकर पढ़ा जाता है. मस्जिदों में नमाज के समय एल्कोहल युक्त सेनिटाइजर का छिड़काव जायज नहीं है. मुफ्ती साजिद कादरी ने कहा कि “ जब इस्लाम में एल्कोहल को हराम माना गया है तो मस्जिद में कैसे इसका छिड़काव किया जा सकता है. जमात रजा - ए – मुस्तफा के उपाध्यक्ष सलमान हसन खां कादरी ने कहा है कि जब नमाज के वख्त परफ्यूम लगाने की इजाजत नहीं है तो ऐसे में एल्कोहल युक्त सेनिटाइजर का प्रयोग तो बिल्कुल भी नहीं किया जा सकता है.
किला जामा मस्जिद के इमाम मुफ्ती खुर्शीद आलम ने कहा है कि लॉक डाउन में मस्जिद बंद थी. अब नई गाइड लाइन में यह कहा गया है कि मस्जिदों में एल्कोहल युक्त सेनिटाइजर का छिडकाव किया जाय, एल्कोहल , इस्लाम में हराम है इसलिए एल्कोहल का छिडकाव नहीं होने दिया जाएगा.