नियंत्रण रेखा से सटे उड़ी और बोनियार सेक्टर में बनाए जा रहे बंकर, 18 अंडरग्राउंड बंकर बनेंगे पहले चरण में

    दिनांक 22-जुलाई-2020   
Total Views |

बारामूला जिले के उड़ी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के करीब रिहाइशी इलाकों में प्रशासन ने अंडरग्राउंड बंकरों का निर्माण कार्य शुरू कर दिया है। जानकारी के मुताबिक उड़ी और बोनियार सेक्टर में फिलहाल 18 बंकर बनाए जाएंगे, जिसमें से 6 बंकरों का निर्माण कार्य जारी है।
jm_1  H x W: 0


पाकिस्तान अपनी नापाक हरकतों से बिल्कुल भी बाज नहीं आ रहा है। वह लगातार सीमा से सटे क्षेत्रों में आतंकियों की घुसपैठ कराने के लिए गोलाबारी करता है। इससे कई बार रिहायशी इलाकों में रहने वाले लोग हताहत होते हैं। इस सबको देखते हुए बारामूला जिले के उड़ी सेक्टर में नियंत्रण रेखा के करीब रिहाइशी इलाकों में प्रशासन ने अंडरग्राउंड बंकरों का निर्माण कार्य शुरू कर दिया है। जानकारी के मुताबिक उड़ी और बोनियार सेक्टर में फिलहाल 18 बंकर बनाए जाएंगे, जिसमें से 6 बंकरों का निर्माण कार्य जारी है। आरएंडबी विभाग के जूनियर इंजीनियर (जेई) जावेद अहमद जो इस पूरे निर्माण कार्य की निगरानी कर रहे हैं, वह बताते हैं कि पहले चरण में जिले के उड़ी और बोनियार सेक्टर में करीब 18 अंडरग्राउंड बंकर बनेंगे। इनका काम शुरू कर दिया गया है। एक बंकर में दो बड़े-बड़े कमरे और एक-एक बाथरूम होगा। इसमें करीब 20 लोग रह सकते हैं। लगभग 10 लाख रुपए के खर्च से तैयार एक बंकर में उन सभी सुविधाओं को ख्याल रखा जाएगा जिससे जिससे गोलाबारी के दौरान स्थानीय लोग कई दिनों तक उसमें रह सकेंगे।
 
स्थानीय लोगों कर रहे निर्माण कार्य की सराहना
बंकरों के निर्माण होने से स्थानीय लोगों में खुशी है। वह सरकार के इस कदम का स्वागत करते हुए कहते हैं कि इसके बनने से हमें काफी मदद मिलेगी। अब हमें गोलाबारी के दिनों में खुले आसमान तले रातें नहीं बितानी पड़ेंगी। इन बंकरों में हम सुरक्षित रह सकेंगे। उन्होंने यह भी कहा कि पहले कई बार पाकिस्तानी गोलाबारी में उनके घर तबाह हो गये थे, जिसके बाद कई रातें खुले आसमान के नीचे बितानी पड़ी थी। सरपंच मंजूर अहमद ने मीडिया से बातचीत में कहा कि हम सरकार के इस कदम की सराहना करते हैं।