मुगलों के नाम पर नहीं, शिवाजी महाराज के नाम से जाना जाएगा आगरा का म्यूजियम

    दिनांक 15-सितंबर-2020   
Total Views |
अब उत्तर  प्रदेश में  आक्रान्ताओं को महिमामंडित  करने का दौर समाप्त हो चुका है. आगरा में बनने वाला मुग़ल म्यूजियम छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम से जाना जाएगा. 
shivyogi_1  H x
 
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आगरा के मुगल म्यूजियम का नाम बदलकर छत्रपति शिवाजी महाराज कर दिया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा, " आगरा में निर्माणाधीन म्यूजियम को छत्रपति शिवाजी महाराज के नाम से जाना जाएगा। आपके नए उत्तर प्रदेश में गुलामी की मानसिकता के प्रतीक चिन्हों का कोई स्थान नहीं है।

हम सबके नायक शिवाजी महाराज हैं।" इसके बाद महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस ने ट्वीट कर प्रशंशा की। उन्होंने ट्वीट किया, " जय जिजाऊ, जय शिवराय। छत्रपति शिवाजी महाराज की जय! छत्रपति शिवाजी महाराज की जय!"

हमारे नायक मुगल नहीं हो सकते। हम सबके नायक शिवाजी महाराज हैं।" इसके बाद महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़नवीस ने ट्वीट कर प्रशंशा की। उन्होंने ट्वीट किया, " जय जिजाऊ, जय शिवराय। छत्रपति शिवाजी महाराज की जय! छत्रपति शिवाजी महाराज की जय!"

उल्लेखनीय है कि ताजमहल के पूर्वी गेट से दो किलोमीटर की दूरी पर बन रहे म्यूजियम में मध्यकालीन इतिहास के साथ ही छत्रपति शिवाजी महाराज के पराक्रम का इतिहास दर्शाया जाएगा। पर्यटन विभाग की ओर से 140 करोड़ रुपए की लागत से इस म्यूजियम का निर्माण कराया जा रहा है। इस म्यूजियम में जरदोजी आदि से जुड़ी हुई कला के लिए एक सेंटर भी बनाये जाने की योजना है।