रक्षा क्षेत्र में बढ़ते भारत के कदम, डीआरडीओ ने किया लेजर गाइडेड एंटी टैंक मिसाइल का सफल परीक्षण

    दिनांक 24-सितंबर-2020   
Total Views |
डीआरडीओ ने एमबीटी अर्जुन टैंक से लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एटीजीएम) का सफल परीक्षण किया है। यह मिसाइल 3 किलोमीटर की दूरी तक भी दुश्मनों के टैंक और ठिकाने उड़ाने में सक्षम है।

c_1  H x W: 0 x

 
तिब्बत—भारत सीमा पर चीन की ओर से जारी तनाव के बीच डीआरडीओ को एक बड़ी सफलता मिली है। डीआरडीओ ने एमबीटी अर्जुन टैंक से लेजर गाइडेड एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल (एटीजीएम) का सफल परीक्षण किया है। गौरतलब है कि यह मिसाइल 3 किलोमीटर की दूरी तक भी दुश्मनों के टैंक और ठिकाने उड़ाने में सक्षम है। डीआरडीओ की इस कामयाबी पर रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने टीम को बधाई दी है।


इस दौरान उन्होंने कहा कि भारत को डीआरडीओ पर गर्व है, जो निकट भविष्य में आयात निर्भरता को कम करने की दिशा में काम कर रहा है। वहीं बीते दिनों भारतीय डिफेंस रिसर्च एंड डेवलेपमेंट ऑर्गनाइजेशन ने ओडिशा के बालासोर में हाई स्पीड एक्सपेंडेबल एरियल टार्गेट (एचईएटी) ‘अभ्यास’ का सफल परीक्षण किया था। परीक्षण में विभिन्न रडारों और इलेक्ट्रो ऑप्टिक प्रणाली के जरिये इसकी निगरानी की गई थी। डीआरडीओ की टीम लगातार आत्मनिर्भर भारत के तहत स्वेदशी सैन्य उपकरणों को विकसित कर रही है।