लवजिहाद: राजा बनकर हिंदू लड़की को प्रेम में फंसाने वाला दो बच्चों का बाप खुर्शीद निकला

    दिनांक 07-सितंबर-2020
Total Views |
दिल्ली के ओखला में दो सगी बहनों को दो मुसलमान लड़कों ने हिंदू बनकर प्रेमजाल में फंसाया। लड़कियों को असलियत पता चली तो लड़कों से बातचीत बंद कर दी। इस पर लड़कियों को पिता को बुरी तरह पीटा गया वह आईसीयू में भर्ती हैं

love jihad _1  
मूल रूप से बिहार का रहने वाला एक परिवार दिल्ली के ओखला में रहकर अपनी गुजर—बसर कर रहा था। इसी बीच खुर्शीद नाम के एक लड़के ने राजा नाम बताकर परिवार की बड़ी लड़की को अपने प्रेमजाल में फंसा लिया। वहीं उसके दोस्त मोहम्मद सल्लन ने लल्लन नाम रखकर छोटी बहन को फंसा लिया। जब दोनों लड़कियों को उनकी असलियत पता चली तो उन्होंने दोनों मुस्लिम लड़कों से बातचीत बंद कर दी।
यह बात दोनों लड़कों को इतनी नागवार गुजरी कि उन्होंने लड़कियों के माता—पिता को बुरी तरह पीटा।
लड़कियों के पिता फिलहाल आईसीयू में भर्ती हैं। उन्हें काफी गंभीर चोट आई है। पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया है लेकिन आरोपी अभी तक फरार हैं।
जानकारी के अनुसार बिहार के गया निवासी दंपती अपने तीन बेटियों व एक बेटे के साथ ओखला में पिछले बीस साल से रह रहे हैं। जनवरी- 2018 की बात है। परिवार की बड़ी लड़की पास के ही सरकारी स्कूल में 11वीं में पढ़ रही थी। स्कूल आते-जाते एक दिन उसे एक युवक ने रोककर बताया कि वह राजा है और उससे दोस्ती करना चाहता है। उसने दोस्ती की और रोज मिलने लगा। कुछ दिन बाद शादी करने का वादा करके उसने लड़की से शारीरिक संबंध बना लिए। उसने चुपके से इसका वीडियो भी बना लिया। इसके बाद वह उसे ब्लैकमेल करने लगा।
लड़की ने अपने परिजनों को इस बात की जानकारी दी तो उन्होंने उसे उसकी मौसी के घर अमृतसर भेज दिया। लेकिन, पहली मई-2018 को राजा अपने तीन दोस्तों के साथ वहां भी पहुंच गया। उसने लड़की को धमकी दी कि यदि वह उससे नहीं मिली तो वह वीडियो इंटरनेट पर डालकर वायरल कर देगा।
लड़की का आरोप है कि एक मई-2018 की शाम दोनों अमृतसर से दिल्ली के लिए बस में सवार हुए। रास्ते में राजा ने बताया कि उसका असली नाम खुर्शीद है। लड़की को इस्लाम कुबूल करवाकर वह उससे शादी करना चाहता है। इस बीच उसने बताया कि वह पहले से शादीशुदा है और उसके दो बच्चे भी हैं। लड़की ने शादी से मना किया तो उसने वीडियो वायरल करने की धमकी दी। दो मई की सुबह वह उसे ओखला थाने के बाहर छोड़कर चला गया। जाने से पहले उसने कहा कि जो समझाया है, पुलिस के सामने वही बोलना।
पुलिस ने लड़की के पिता को बुलाया तो उसने पिता के सामने कह दिया कि वह अपनी मर्जी से खुर्शीद के साथ भागी है। फिर उसे महिला आयोग के काउंसिलिंग सेंटर भेज दिया गया। इसके बाद लड़की अपने माता-पिता के घर आ गई। इसके बाद भी वह धमकी देकर लड़की का शारीरिक शोषण करता रहा। खुर्शीद व उसके दोस्तों ने परिवार का जीना दुश्वार कर दिया। लड़की का पीछा किया जाने लगा। इससे परेशान होकर लड़की ने स्कूल जाना बंद कर दिया। जब परिजनों ने विरोध किया तो मुस्लिम लड़कों ने उनके पिता को बुरी तरह मारा। लड़की के परिजनों का कहना है ​कि उन्हें लगातार जान से मारने की धमकी दी जा रही है।