चार ईसाई संगठनों साहित छह एनजीओ के विदेशी चंदा लेने पर लगी रोक

    दिनांक 08-सितंबर-2020   
Total Views |
केंद्रीय गृह मंत्रालय ने  चार ईसाई संगठनों सहित छह एनजीओ के विदेशी योगदान विनियमन अधिनियम (एफसीआरए ) लाइसेंस को सस्पेंड कर दिया है

ngo_1  H x W: 0


केंद्रीय गृह मंत्रालय ने  चार ईसाई संगठनों सहित छह एनजीओ के विदेशी योगदान विनियमन अधिनियम (एफसीआरए ) लाइसेंस को सस्पेंड कर दिया है। इसके बाद इन्हें विदेशों से चंदा नहीं मिल पाएगा क्योंकि किसी भी संगठन के लिए विदेशी चंदा प्राप्त करने के लिए गृह मंत्रालय से एफसीआरए की मंजूरी होना अनिवार्य है

जिन चार ईसाई संगठनों का एफसीआरए निलंबित किया गया है, उनमें झारखंड का इकोसोसोकुलिस नॉर्थ वेस्टर्न गॉसनर इंजील, मणिपुर का इंजील चर्चिज एसोसिएशन, झारखंड के नार्थ इवेंजेलिकल लूथरन चर्च और मुंबई स्थित न्यू लाइफ फेलोशिप एसोसिएशन (NLFA) शामिल हैं। दो अमेरिकी दानदाता सवेंथ डे एडवेंटिस्ट चर्च और बैपटिस्ट चर्च मंत्रालय के शक के घेरे में हैं। वर्तमान में भारत में उनकी फंडिंग गतिविधियों की भी जांच की जा रही है।

 इससे पूर्व 2017 में एक और शक्तिशाली यूएस-आधारित ईसाई दाता, जिसे कॉम्पेशन इंटरनेशनल कहा जाता था उसका भारत में संचालन रोका गया था। दरअसल, गृह मंत्रालय को पता चला था कि वह कुछ ऐसे एनजीओ को पैसा दे रहा था जिनका काम सेवा की आड़ में कन्वर्जन को बढ़ावा देना था।